Year Ender 2021 These Desi super foods made their own identity in abroad lak
स्वास्थ्य

Year Ender 2021 These Desi super foods made their own identity in abroad lak

Desi superfood in 2021: पूरी दुनिया में इस साल (2021) भी कोरोना (Covid-19) का भारी खौफ रहा है. कोरोना से बचने के लिए पूरी दुनिया में इम्यूनिटी (Immunity) बढ़ाने पर जोर रहा. ऐसे में हजारों साल पुरानी हमारा आयुर्वेदिक उपचार और दादी मां के नुस्खे का जादू हर तरफ सिर चढ़कर बोल रहा है. इस साल भारत के कई फूड ने पश्चिमी देशों में अपनी अलग पहचान बनाई और इन्हें सुपर फूड का दर्जा भी दिया जाने लगा है. सोशल मीडिया पर करोड़ों ऐसे पोस्ट लिखे गए जिनमें भारतीय आयुर्वेद के खजाने का गुणगान किया गया है. अमेरिका, यूरोप में हल्दी, आंवला से लेकर ऑयल पुलिंग और योगा की धूम रही. इसी तरह नारियल तेल, घी, रागी सहित कई भारतीय खाद्य पदार्थों ने विदेश में सुपर फूड का दर्जा हासिल किया है. आइए जानते हैं अमेरिका, यूरोप सहित कई देशों में हमारे कौन-कौन से खाद्य पदार्थों की 2021 में धूम रही.

इन सुपर फूड का सेवन बढ़ा

इसे भी पढ़ेंः सर्दी में क्यों हो जाती है विटामिन डी की कमी, जानिए किनको है ज्यादा खतरा
आंवला
एचटी की खबर के मुताबिक पूरी दुनिया में इस साल साल आंवले की धूम रही. भारत में इसे अचार, मुरब्बा और च्यवनप्राश के रूप में सेवन किया जाता है. विदेश में इसे कार्डियोवैस्कुलर टॉनिक और इम्यूनिटी बूस्टर के रूप में जाना जाने लगा. यहां तक कि ब्लड शुगर को कम करने के लिए भी विदेश में इस बार आंवला का सेवन बढ़ गया. आंवला में मौजूद पोलीफिनॉल बॉडी में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मदद करता है. यह क्रोनिक हेल्थ कंडीशन को सही करता है. आंवला को एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी इंफ्लामेटरी के लिए भी जाना जाता है. इसमें कैंसर से लड़ने की भी क्षमता है.
केला
केला सिर्फ डाइजेस्टिव सिस्टम को ही सही करने के लिए नहीं बल्कि यह मूड बनाने के भी काम आता है. इसमें मौजूद फाइबर, पोटैशियम, फोलेट, एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी के कारण इसे भी सुपर फूड का दर्जा प्राप्त है. इसे विदेश में अब मूड बूस्टर के रूप में पहचान मिल गई है.

इसे भी पढ़ेंः पेशाब में समस्या के अलावा किडनी खराब होने के कई अन्य संकेत भी हैं, जानिए लक्षण

घी
सदियों से हमारे देश में घी को ताकत का पर्याया माना जाता है. इस साल विदेश में भी इसे अलग पहचान मिल गई है. कई कार्डियलॉजिस्ट ने सलाह दी है कि रोटी या दाल के साथ सीमित मात्रा में धी का सेवन हार्ट को हेल्दी रखता है. इसमें विटामिन ई मौजूद रहता है जो कई एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है.

हल्दी
सदियों से हमारे देश में हल्दी को कई तरह की बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है. हल्दी भारतीय किचन में सबसे जरूरी सामग्री में एक है. इसमें क्यूराक्यूमिन (curcumin) मौजूद है जो एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर है. इसी कारण हल्दी एंटी-इंफ्लामेटरी बन जाती है जो कैंसर जैसी बीमारियों से लड़ने में कारगर है.

Tags: Health, Lifestyle, Year Ender 2021

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.