World Oral Health Day 2022: दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अपनाएं ये ओरल हाइजीन हैबिट्स
स्वास्थ्य

World Oral Health Day 2022: दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अपनाएं ये ओरल हाइजीन हैबिट्स

Oral Hygiene Tips: प्रत्येक वर्ष आज (20 मार्च) के दिन ‘वर्ल्ड ओरल हेल्थ डे’ (World Oral Health Day 2022) मनाया जाता है. इस दिन को सेलिब्रेट करने के पीछे खास मकसद होता है लोगों में ओरल हाइजीन (oral hygiene) और ओरल हेल्थ (oral health) के महत्व को समझाना, इससे संबंधित समस्याओं के प्रति लोगों को जागरूक करना. इस बार ‘वर्ल्ड ओरल हेल्थ डे’ की थीम ‘बी प्राउड ऑफ योर माउथ फॉर योर हैप्पिनेस एंड वेल-बीइंग’ है. दांत चमकीले और मसूड़े स्वस्थ हों, तो चेहरे की खूबसूरती और भी ज्यादा बढ़ जाती है. कुछ लोगों के दांत (Dental care) बहुत पीले नजर आते हैं. मसूड़ों से ब्रश करते ही खून निकलने लगता है, अक्सर मसूड़ों में सूजन, दर्द रहता है, तो यह अनहेल्दी ओरल हेल्थ के लक्षण हैं. कई बार सही तरीके से ब्रश ना करने से सांसों से दुर्गंध भी बहुत आती है, जो आपको भीड़ में शर्मिंदा कर सकता है. ऐसे में बेहद जरूरी है ओरल हाइजीन का ख्याल रखना. आप चाहते हैं कि आपके दांत लंबी उम्र तक मजबूत, चमकीले बने रहें, तो कुछ हेल्दी ओरल हैबिट्स (Oral Health Care Tips) को अपनी रूटीन में शामिल करें.

इसे भी पढ़ें: दांतों का पीलापन करना है दूर? घर पर बने इस पाउडर की लें मदद

ओरल हेल्थ से जुड़े लक्षणों को ना करें इग्नोर
वेबएमडी में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, यदि आपको जबड़े, दांतों और मसूड़ों में दर्द रहे तो इसे इग्नोर ना करें. मसूड़ों से खून आना, ढीले दांत, लगातार सांसों से बदबू आना, मुंह में गांठ, मुंह में घाव, अनियमित धब्बे या दाने नजर आएं तो डेंटिस्ट से जरूर दिखाएं. एक डेंटिस्ट जांच करके तुरंत बता देगा कि आपको ओरल हेल्थ संबंधित ये लक्षण किन कारणों से नजर आ रहे हैं.

ओरल हाइजीन टिप्स

  • यदि आप दांतों को मजबूत बनाए रखना चाहते हैं, तो कम से कम दो बार ब्रश (Oral health care tips) जरूर करें. कुछ भी खाएं पानी से कुल्ला करें. छोटा सा भी खाने का टुकड़ा दांतों के बीच फंसा रह जाए, तो दांतों में कीड़े लगने में जरा भी देर नहीं लगती. दांत स्वस्थ नहीं रहेंगे, तो आपके मसूड़े भी सूजे हुए रहेंगे और ब्लीडिंग होती रहेगी.
  • दांतों और मसूड़ों की सेहत बनाए रखना चाहते हैं, तो प्रत्येक छह महीने में डेंटल चेकअप कराना भी जरूरी हो जाता है. दांतों में लगे सड़न का इलाज ना किया जाए, तो मुंह संबंधित कई अन्य समस्याएं हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ें: ऐसे करें दांतों की देखभाल, एक्सपर्ट से जानें ओरल हेल्थ के कई सवालों के जवाब

  • डेंटल चेकअफ कराते रहने से दांतों पर प्लाक, गंदगी चिपकती नहीं है. इससे दांत भी जल्दी खराब नहीं होते हैं. कैविटी से बचे रहने के लिए आप रेगुलर डेंटल चेकअप (how to maintain oral hygiene) किसी अच्छे डेंटिस्ट से ही कराएं.
  • किसी अच्छी कंपनी का टूथपेस्ट और टूथ ब्रश इस्तेमाल करें. कई बार ब्रश के ब्रिसल्स बहुत हार्ड होते हैं, जिससे मसूड़े छिल जाते हैं. इससे मसूड़ों में दर्द, सूजन रहने के साथ ही जब भी ब्रश करें, तो खून आने लगता है.
  • दांतों की फ्लॉसिंग करना ना भूलें. बच्चों को अधिक चॉकलेट, चिप्स, मीठी चीजें खाने के लिए ना दें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.