World Obesity Day 2021: जानें विश्व मोटापा दिवस की थीम, महत्व और उद्देश्य
स्वास्थ्य

World Obesity Day 2022: जानें विश्व मोटापा दिवस की थीम, महत्व और उद्देश्य

World Obesity Day 2022 : आजकल की लाइफस्टाइल में मोटापा (Obesity) एक वैश्विक समस्या है. दुनिया भर में, लगभग 800 मिलियन लोग इस बीमारी के साथ जी रहे हैं जबकि लाखों लोगों के इससे प्रभावित होने का खतरा बना हुआ है. इसी को ध्यान में रखते हुए 4 मार्च को विश्व मोटापा दिवस यानी वर्ल्ड ओबेसिटी डे (World Obesity Day 2022) मनाया जाता है. वर्ल्ड ओबेसिटी डे मोटापे से जुड़े खतरों की जानकारी देने, उसके व्यावहारिक समाधान, और सही इलाज करते हुए लोगों को हेल्दी वेट हासिल करने और बनाए रखने में मदद करने के लिए मनाया जाता है. इससे पहले 11 अक्टूबर को वर्ल्ड ओबेसिटी डे के रूप में मनाया जाता था. लेकिन साल 2020 के बाद से इस तारीख को बदलकर 4 मार्च कर दिया गया है. विश्व मोटापा दिवस के बारे में अधिक जानने के लिए आइए जानते हैं इसकी थीम, इतिहास और महत्व के बारे में.

विश्व मोटापा दिवस 2022: थीम
विश्व मोटापा दिवस 2022 की थीम ‘एवरीबडी नीड्स टू एक्ट (Everybody Needs to Act)’ है. मतलब सभी को काम करने की जरूरत है. आपको बता दें साल 2021 में इस दिन का थीम, ‘एवरीबडी नीड्स एवरीबडी’ था और उस साल इस अभियान को बड़ी सफलता हासिल हुई.

विश्व मोटापा दिवस: इतिहास
विश्व मोटापा दिवस साल 2015 में पहली बार मनाया गया था. विश्व मोटापा संघ (World Obesity Federation) इस दिन को सालाना आयोजित करता है. ये एक नॉन-प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन है जो डब्ल्यूएचओ (WHO) और लैंसेट कमीशन ऑन ओबेसिटी (Lancet Commission on Obesity) के साथ मिलकर काम करती है.

यह भी पढ़ें-
सिर और गर्दन के कैंसर के इलाज में मददगार हैं इम्यूनोथेरेपी दवाएं, US यूनिवर्सिटी की स्टडी में दावा

साल 2016 में, संगठन ने बचपन के मोटापे पर जोर दिया (WHO आयोग की एंडिंग चाइल्डहुड ओबेसिटी की रिपोर्ट के साथ एलाइजमेंट में). 2017 विश्व मोटापा दिवस के लिए  ‘मोटापे का अभी इलाज करें और बाद में परिणामों से बचें’ ये विचार चुना गया था. मोटापे के प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाने और बीमारी से छुटकारा पाने के लिए स्थानीय, राष्ट्रीय और वैश्विक स्तर पर इसे कैसे संबोधित किया जाना चाहिए, इसके बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए इस अंतर्राष्ट्रीय निकाय ने एक दिन निर्धारित किया. क्योंकि सामूहिक प्रयास से ही एक खुशहाल और स्वस्थ समाज का निर्माण किया जा सकता है, जिसमें लोग लंबे जीवन का आनंद उठा सकें.

विश्व मोटापा दिवस: महत्व
मोटापे से निपटना सबसे कठिन सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौतियों में से एक रहा है. यह एक जीवन बदलने वाली बीमारी (life-altering disease) है जो कई बीमारियों की संभावना को बढ़ा देती है. इस अभियान का उद्देश्य “मोटापे को कम करने, रोकने और इलाज के लिए वैश्विक प्रयासों का नेतृत्व करना और चलाना” है.

यह भी पढ़ें-
Vitamin D Rich Foods: विटामिन D की कमी दूर करेंगे ये फूड्स, आज से ही डाइट में कर लें शामिल

इसका महत्व लाखों बच्चों और वयस्कों के स्वास्थ्य और भविष्य की रक्षा के लिए सिस्टम को फिर से फिर से डिजाइन (redesign) करने या पुनर्निर्देशित (reorient) करने का प्रयास करना है.  हेल्दी फूड और ड्रिंक के ऑप्शंस, हेल्दी लाइफस्टाइल चेंजिंग की ट्रेनिंग, सही एक्सरसाइज की जानकारी का प्रसार, लोगों को एक्टिव लाइफस्टाइल के लिए प्रोत्साहित करने के प्रयास करने से ही हम वैश्विक मोटापे के उन्मूलन की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देने में सक्षम होगें.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.