क्या है सही तरीका: जूतों के साथ पहनने चाहिए मोजे या नहीं? भारी पड़ सकती है एक गलती
स्वास्थ्य

wearing shoes with socks gives you many benefits know the right way samp | क्या है सही तरीका: जूतों के साथ पहनने चाहिए मोजे या नहीं? भारी पड़ सकती है एक गलती

हमारी सेहत बहुत छोटी-छोटी चीजों से जुड़ी होती है, जैसे जूते पहनना. हम सभी जूते पहनते हैं, कुछ लोग जुराबे यानी मोजे के साथ जूते पहनना पसंद करते हैं, तो कुछ लोग जुराबों के बिना जूते पहनना पसंद करते हैं. लेकिन क्या आपने सोचा है कि हमारी ये छोटी-सी पसंद भी सेहत पर असर डाल सकती है. हमने इस बारे में ऑनलाइन छानबीन की, तो पता चला कि इसमें से जूते पहनने का एक तरीका सही है और एक गलत. आइए जूते पहनने के सही तरीके और उसके फायदों के बारे में जानते हैं.

ये भी पढ़ें: How to cook rice : इस तरीके से बनाना शुरू करें चावल, वरना बढ़ता है कैंसर व हार्ट डिजीज का खतरा

Jamaica Hospital के न्यूजलेटर के मुताबिक, जूतों के अंदर जुराब पहनना सही तरीका है. क्योंकि, इससे निम्नलिखित फायदे प्राप्त होते हैं. जैसे-

  1. हमारे तलवे और एड़ी जूते से सीधा रगड़ नहीं खाते हैं. जिससे वहां की त्वचा खुरदुरी नहीं बनती.
  2. जुराबें गर्मियों के समय पसीना सोखने और सर्दियों के समय गर्माहट देने में मदद करती हैं.
  3. जुराबे पहनने से तलवे ज्यादा देर तक पसीने के संपर्क में नहीं रहते हैं, जिससे फुट फंगस (Foot Fungus) का खतरा नहीं होता. फुट फंगस ऐसी जगह होता है, जहां नमी हो, अंधेरा हो व गर्मी हो और बिना मोजे के जूते पहनने से ऐसा माहौल बन जाता है.
  4. जुराब पहनने से बैक्टीरिया व डेड स्किन नहीं जमती और इंफेक्शन का खतरा खत्म हो जाता है.
  5. तलवों में छाले नहीं पड़ते और पैरों को कुशनिंग मिलती है.

ये भी पढ़ें: Health News: आज से ही छोड़ दें इस तरह चाय पीना, वरना झेलनी पड़ेगी ये दिक्कत

जूतों के अंदर जुराब पहनते समय बरतें ये सावधानी

  • मोजे कॉटन और अच्छी क्वालिटी के हों.
  • गंदी जुराबे ना पहनें.
  • जुराबे उतारने पर लाल निशान दिख रहे हैं, तो मोजे बदल लें.
  • अगर काफी देर तक मोजे और जूते पहने हैं, तो थोड़ी देर मोजे उतारकर तलवों को हवा लगने दें.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *