Vegan Diet: जानें क्या है वीगन डाइट और क्या हैं इसके फायदे-नुकसान
स्वास्थ्य

Vegan Diet: जानें क्या है वीगन डाइट और क्या हैं इसके फायदे-नुकसान

Vegan Diet: आज कल वीगन डाइट का चलन काफी ज़ोरों पर है. फिट रहने और वजन कम करने के लिए ये डाइट फिटनेस इंडस्ट्री (Fitness Industry) में काफी फॉलो की जाती है. लेकिन बहुत से नॉर्मल लोग ऐसे भी हैं जो वीगन डाइट (Vegan Diet) और इसके फायदे-नुकसान के बारे में नहीं जानते हैं. तो आइये आज हम आपको बताते हैं कि वीगन डाइट क्या है और इसके क्या फायदे और नुकसान हो सकते हैं. आइये जानते हैं इस बारे में.

क्या है वीगन डाइट

वीगन डाइट एक ऐसी डाइट है जिसमें पशु या उनके ज़रिये तैयार किये गए किसी उत्पाद को नहीं खाया जाता है. इनमें डेयरी प्रोडक्ट, दूध, शहद, पनीर, मक्खन, अंडे और मांस जैसी चीजें शामिल हैं. इस डाइट में केवल फलीदार पौधे, अनाज, बीज, फल, सब्ज़ियां, नट्स और ड्राए फ्रूट्स शामिल होते हैं. बहुत लोग इसे वेजिटेरियन डाइट कहते हैं लेकिन यह वेजिटेरियन डाइट से काफी अलग है क्योंकि वेजिटेरियन डाइट में पनीर, मक्खन और दूध, दही जैसी चीजें खाने की मनाही नहीं होती है.

ये भी पढ़ें: अगर शरीर में हो रही है हीमोग्लोबिन की कमी तो डाइट में शामिल करें यह 7 चीजें

वीगन डाइट के फायदे

वीगन डाइट में एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर चीज़ें शामिल होती हैं. ये चीजें शरीर का जल्दी बीमार होने से बचाव करती हैं. वीगन डाइट रक्तचाप और मधुमेह जैसी बीमारियों को दूर रखने में भी मदद करती है.

वीगन डाइट में कोलेस्ट्रोल की मात्रा बिल्कुल नहीं होती है. साथ ही इसमें संतृप्त वसा भी काफी कम मात्रा में होती है. इसकी वजह से कई बीमारियों का जोखिम कम होता है. साथ ही दिल के स्वास्थ को बेहतर बनाये रखने में भी ये मदद करती है.

इस डाइट की वजह से पशु-पक्षियों की ज़िंदगी भी सुरक्षित रहती है.

वीगन डाइट पर्यावरण की रक्षा करने में भी मददगार साबित होती है. इसके साथ ही ये आपके कार्बन फुटप्रिंट को भी कम करने में मददगार होती है.

वीगन डाइट आपकी कैलोरी सेवन को कम और प्रोटीन सेवन को बढ़ाकर आपके वजन को कम करने में मदद करती है.

ये भी पढ़ें: ज्यादा ही नहीं, कम नमक खाने से भी हो सकता है सेहत को नुकसान

वीगन डाइट के नुकसान

वीगन डाइट के कुछ नुकसान भी हैं. अपनी डाइट से पूरी तरह से पशु उत्पादन चीजों को हटा देने से शरीर में कई तरह के पोषक तत्वों की कमी हो सकती है.

शरीर को कैल्शियम और ओमेगा-3 जैसे विटामिन और मिनरल्स भी नहीं मिल पाते हैं, जो कि ज्यादातर मांस और डेरी प्रोडक्ट्स से प्राप्त होते हैं.

शरीर में पर्याप्त पोषक तत्वों की आपूर्ति के लिए अन्य स्रोतों पर निर्भर रहना पड़ता है. जिसके चलते पाचन तंत्र खराब होने की संभावना रहती है.

पर्यावरण और पशु-पक्षियों की सुरक्षा और पर्यावरण के अनुकूल डाइट करने के चलते आपको शारीरिक कमज़ोरी हो सकती है.

आप अगर बाहर खाना खाने के शौक़ीन हैं तो आपके लिए बाहर खाना नामुमकिन सा हो जायेगा, क्योंकि ऐसे कम ही रेस्टोरेंट हैं जो वीगन डाइट परोसते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *