Thyroid medication key points symptoms read details neer
स्वास्थ्य

Thyroid medication key points symptoms read details neer

Thyroid Medication: तेजी से बदलती लाइफ स्टाइल की वजह से अब लोगों में बीमारियों का ग्राफ तेजी से बढ़ा है. पिछले कुछ वक्त में थायराइड (Thyroid) की समस्या भी काफी देखने को मिल रही है. उम्रदराज लोगों के साथ ही युवाओं में भी थायराइड की समस्या देखी जा रही है. थायराइड की बीमारी दरअसल हार्मोन के रिसाव के असंतुलित होने की वजह से पैदा होती है. इस बीमारी पर अगर समय रहते ध्यान नहीं दिया जाए तो यह शरीर को काफी नुकसान पहुंचा सकती है. थायराइड होने पर अगर इसकी दवा शुरू करना है तो बेहतर असर के लिए कुछ ज़रूरी बातें जानना ज़रूरी है.
बता दें कि थायराइड दो प्रकार का होता है. जब थायराइड ग्रंथी से हार्मोन का सिक्रेशन ज्यादा मात्रा में होता है तो यह समस्या हाइपरथाइराइड कहलाती है, वहीं अगर ग्रंथी से कम मात्रा में हार्मोन का रिसाव होता है तो यह समस्या हाइपोथायराइड कहलाती है. थायराइड एक तितली के आकार की ग्रंथी होती है. अगर कोई व्यक्ति अपने थायराइड के लेवल को मैनेज नहीं कर पाता है तो ये हार्ट और नर्व संबंधी बीमारियों को पैदा कर सकती है.

दवा लेते समय इन ज़रूरी बातों का रखें ध्यान

1. कब खाएं – किसी भी बीमारी की दवाएं आमतौर पर खाने के बाद ही लेने की सलाह दी जाती है. लेकिन अगर थायराइड की समस्या के चलते आप दवाएं (Medication) शुरू कर रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि ये दवाएं हमेशा खाली पेट लेना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि खाना खाने के बाद आप थायराइड की दवाएं लेते हैं तो इनका प्रभाव कम हो जाता है.

इसे भी पढ़ें: ये लक्षण अगर नज़र आ रहे हैं तो हो सकती है विटामिन B12 की कमी

2. नियमितता – थायराइड की समस्या के लिए अगर आप दवाइयां ले रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि दवाओं को नियमित लेना ज़रूरी है. ये आपके थायराइड लेवल को कंट्रोल करने में अहम भूमिका निभाती हैं. ये दवाएं एक निश्चित समय पर लेना ज्यादा फायदेमंद होता है. ये सलाह दी जाती है कि थायराइड की दवा खाना खाने से आधा घंटे से एक घंटा पहले ले लेना चाहिए जिससे इनका बेहतर रिजल्ट मिल सके.

3. सादे पानी से लें – दवाओं को लेने के लिए विशेषज्ञ अलग-अलग तरीके बताते हैं. थायराइड की दवा अगर आप ले रहे हैं तो इसे सादे पानी से ही लेना चाहिए. चाय या कॉफी से दवा लेने से
इसका असर कम हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: वजन कम करने की सारी कोशिशें हो रही हैं बेकार, कहीं आप भी तो ये गलतियां नहीं कर रहे?

4. दवाएं – आप अगर थायराइड के अलावा किसी अन्य बीमारी की भी दवा लेते हैं तो इस बार का विशेष ध्यान रखें कि थायराइड की दवा के साथ अन्य किसी बीमारी की दवा न लें. आपको अगर सुबह कोई सप्लीमेंट भी अगर लेना जरूरी है तो थायराइड की दवा और सप्लीमेंट लेने के बीच लगभग एक घंटे का अंतर रखें. अगर आपको दो दवाओं से ज्यादा लेना पड़ रही हैं और आपको कुछ कन्फ्यूज़न है तो इसके लिए डॉक्टर की सलाह लेना ज्यादा बेहतर रहेगा.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.