तनाव में ये चीजें बन जाती हैं जानलेवा, खाने से पहले 100 बार सोच लें
स्वास्थ्य

These foods can be dangerous for people with anxiety and stress | जब भी तनाव में हों न खाएं ये खाना, वरना हो सकता है जानलेवा

नई दिल्लीः तनाव (Stress) और चिंता हम जिंदगी में कई बार महसूस करते है. इससे छुटकारा पाने के लिए हम व्यायाम, योगा, घूमना और डॉक्टर से भी सलाह लेते हैं. लेकिन क्या आपको पता कि कुछ खाद्य और पेय पदार्थ भी ऐसे होते हैं, जो चिंता और तनाव दूर करने में सहायक होते हैं. हम आपको ऐसे पदार्थों के बारे में बताएंगे, कि जब आप चिंता और तनाव से परेशान हो तो इनसे दूर रहना चाहिए. क्योंकि ये पदार्थ हमारे खून में शुगर के स्तर पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं.

पीने वाले मीठे पदार्थ
शुगर लेवल बढ़ने से चिंता और तनाव और ज्यादा बढ़ता है. इसलिए मीठे पेय पदार्थों का सेवन ना करें. कुछ ऐसे फल भी होते हैं, जिनके रस में पर्याप्त फाइबर होते हैं और शुगर की मात्रा भी कम होती है या बिलकुल नहीं होती. लेकिन कम फाइबर वाले खाद्य या पेय पदार्थों से भी शुगर लेवल बढ़ सकता है.

चिकनाई
बल्ड शुगर का लेवल गिरना चिंता और घबराहट की भावनाओं को विकसित करने की संभावनाओं को बढ़ा देता है. इसका सबसे बड़ा कारण चिकनाई है. जो ऊर्जा और पोषण का एक बड़ा स्रोत है. फलों और सब्जियों में चिकनाई कम होनी चाहिए.

केक और कुकीज
खून में शुगर की मात्रा बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों से दूर रहे हैं. क्योंकि ब्लड शुगर लेवल पर प्रभाव पड़ने से चिंता बढ़ जाती है. कुकीज, पेस्ट्री और केक खाद्य पदार्थ न खाएं. ऐसे समय में आपको ताजा फल खाने चाहिए.

अल्कोहल (Alcohol)
अल्कोहल, ब्लड शुगर के लेवल पर विपरीत (Unfavorable) प्रभाव डालती है, इससे अनिद्रा बढ़ सकती है. लोग सोचते हैं कि शराब शरीर की नसों को शांत करने में मदद करती है, लेकिन ये सच नहीं है. शराब से शरीर में पानी की कमी हो सकती है. हैंगओवर की वजह से चिंता और तनाव और ज्यादा बढ़ सकते हैं.

कैफीन पदार्थ न पीएं 
चिंता करने वाले लोगों को कैफीन युक्त पेय पदार्थ नहीं पीने चाहिए. जैसे कॉफी, चाय और एनर्जी ड्रिंक, कैफीन परिधीय और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र में एडेनोसाइन रिसेप्टर्स को सक्रिय करता है, जो चिंता और बढ़ा देता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय अपनाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *