Right time to eat sweet potato for health benefits in hindi pra
स्वास्थ्य

Right time to eat sweet potato for health benefits in hindi pra

Right Time To Eat Sweet Potato : आमतौर पर शकरकंद (Sweet Potato) को लोग उबालकर या रोस्‍ट कर खाना पसंद करते हैं. इसमें भरपूर मात्रा में आयरन, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, थायमिन, और जिंक पाए जाते हैं जो शरीर के दिन भर की जरूरतों के लिए काफी होता है. लेकिन आपको बता दें कि शकरकंद खाने के जितने फायदे (Benefits) हैं, नुकसान (Side effects) भी कम नहीं हैं. ओनलीमाईहेल्‍थ के मुताबिक, अगर आप शकरकंद को रात में खाएंगे तो इसकी वजह से आपका तेजी से वजन बढ़ सकता है. यही नहीं, रात में इसके सेवन से कब्ज या दस्त की समस्या भी हो सकती है.

इसके खाने के सही टाइम के बारे में फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, फरीदाबाद के गैस्ट्रोएंटरोलॉजी विभाग के सलाहकार डॉ शुभम वात्स्या (Dr Shubham Vatsya) ने विस्‍तार से बताया. तो आइए जानते हैं कि शकरकंद खाने का सही समय क्‍या होना चाहिए.

ब्रेकफास्‍ट के समय शकरकंद खाना बेहतर

एक शकरकंद अगर आप सुबह खाएं तो यह आपको दिन भर एनर्जेटिक बनाए रखने में मदद करता है. इसमें भरपूर मात्रा में मौजूद विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट आपकी कोशिकाओं को दिन-प्रतिदिन क्षति से बचाने में मदद करते हैं.  इसलिए आप नाश्ते में ही शकरकंद खाएं. इसके अलावा, यह आपकी आंखों को हेल्‍दी रखने के साथ-साथ प्रजनन तंत्र और आपके हार्ट और गुर्दे जैसे अंगों के लिए भी अच्छा होता है.

ये भी पढ़ें: विंटर में स्किन पर बढ़ने लगे हैं फाइन लाइन्‍स, तो प्रयोग करें कुंकुमादि ऑयल

रात में शकरकंद खाने के नुकसान

दरअसल, शकरकंद (Shakarkand) में हाई कैलोरीज पाई जाती हैं. यह स्टार्च से भरपूर होता है. ऐसे में इसमें मौजूद भरपूर पोषक तत्वों को पचाने और हाई कैलोरी को बर्न करने में काफी समय लगता है. अगर आप कैलोरी बर्न नहीं कर पाए तो वजन तेजी से बढ़ सकता है. ऐसे में रात में शकरकंद खाने से आपके शरीर में बॉडी मॉस इंडेक्‍स बिगड़ता है और डायजेशन की समस्‍या हो सकती है.

शकरकंद के फायदे

– शकरकंद का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और इसका सेवन इंसुलिन के प्रोडक्शन और कार्यप्रणाली को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है.

– शकरकंद में उच्च मात्रा में फाइबर होता है.

– फाइबर सामग्री टाइप 2 डायबिटीज वाले लोगों में ब्लड शुगर, लिपिड और इंसुलिन के स्तर में सुधार करने में भी मदद करती है.

– शकरकंद पाचन में सुधार करने में मददगार है.

– यह कब्ज और अन्य पाचन समस्याओं से बचाव में भी मददगार है.

इसे भी पढ़ें : बड़े काम के हैं ये होममेड डार्क सर्कल्स आई पैक, जानें इसे बनाने का तरीका और फायदे

शकरकंद के नुकसान

– अगर आप हृदय रोग और बीटा-ब्लॉकर्स दवाओं का सेवन करते हैं तो इससे बचना चाहिए.

– जिन लोगों को गुर्दे की समस्या है उन्‍हें भी शकरकंद से बचना चाहिए.

– शकरकंद में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है. ऐसे में शुगर पेशेंट को डॉक्‍टर की सलाह के बाद ही इसे खाना चाहिए.

Tags: Health, Healthy Foods, Lifestyle, Winter



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.