Healthy Tips: इन दो चीजों को मिलाकर दोपहर में खा लीजिए, हो जाएगा कमाल
स्वास्थ्य

raisins with curd recipe gives many health benefits how to set thick curd janiye dahi aur kismis ke fayde samp | Healthy Tips: इन दो चीजों को मिलाकर दोपहर में खा लीजिए, हो जाएगा कमाल

हम जो खाते हैं, उसका असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता ही है. हमारे पेट में हेल्दी बैक्टीरिया होते हैं, जिसे गट हेल्थ (Gut Health) भी कहा जाता है. इन हेल्दी बैक्टीरिया में कमी या अनहेल्दी बैक्टीरिया में बढ़ोतरी के कारण हमारा संपूर्ण स्वास्थ्य बिगड़ जाता है. लेकिन अगर आप दोपहर के समय दो चीजों को मिलाकर खा लेंगे, तो आपको इतने कमाल के फायदे मिलेंगे कि आप हैरान हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें: 5 Foods for Pain Relief: 5 बेमिसाल फूड्स, जो किसी भी तरह का दर्द कर देंगे गायब

कौन-सी दो चीजों को मिलाकर खाना है? (Curd and Raisins Recipe)
सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर का कहना है कि आज के समय में तनाव और सोशल इंटरेक्शन व पोषण में कमी के कारण पेट के लिए लाभकारी बैक्टीरिया का स्तर घट जाता है. जिसके लिए दोपहर का खाना खाने के बाद या दोपहर में 3 से 4 बजे के बीच इस तरीके से दही और किशमिश का सेवन (Curd and Raisins health benefits) करना चाहिए.

  1. सबसे पहले एक कटोरी ताजा और फुल क्रीम गुनगुना दूध लें.
  2. इसमें 4 से 5 किशमिश (काली किशमिश (black raisins benefits) बेहतर रहेगी) डालें.
  3. अब इसमें बहुत थोड़ी-सी दही डालकर 32 बार चम्मच हिलाएं.
  4. इसके ऊपर ढक्कन रखकर 8 से 12 घंटे के लिए छोड़ दें.
  5. इस तरीके से गाढ़ी और मलाई दही जम जाएगी.
  6. अगले दिन दोपहर में इस दही और किशमिश का सेवन करें.

ये भी पढ़ें: Health News: शादीशुदा पुरुष रोजाना खा लीजिए इतने काजू, फायदे देखकर चौंक जाएंगे

Curd and Raisins Benefits: दही और किशमिश खाने के फायदे
करीना कपूर खान, करिश्मा कपूर जैसी कई सेलिब्रिटी को न्यूट्रिशन से जुड़ी सलाह देने वाली रुजुता दिवेकर ने बताया कि दही में विटामिन बी 12 होता है और यह प्रोबायोटिक की तरह काम करती है यानी इसमें हेल्दी बैक्टीरिया होते हैं. वहीं, किशमिश में सॉल्यूबल फाइबर उच्च मात्रा होता है, जो कि प्री-बायोटिक है यानी पेट के अच्छे बैक्टीरिया का फूड बनता है. आइए इसके फायदे जानते हैं.

  • पेट की चर्बी कम होती है.
  • कब्ज से राहत
  • साफ और सुंदर त्वचा
  • समय से पहले बाल सफेद नहीं होते हैं
  • आंतों की इंफ्लामेशन दूर होती है
  • जल्दी थकावट दूर करता है
  • यूटीआई से राहत देता है
  • असंतुलित कोलेस्ट्रॉल लेवल, हाई बीपी में लाभदायक
  • अचानक वजन बढ़ना रोकता है
  • थायरॉइड की समस्या कम करता है
  • पीसीओडी, पीसीओएस में राहत
  • दांतों और मसूड़ों का बेहतर स्वास्थ्य
  • हड्डी और जोड़ों के लिए फायदेमंद

रुजुता दिवेकर के मुताबिक लैक्टोज इनटॉलरेंस से ग्रसित लोग भी इस तरीके से दही और किशमिश खा सकते हैं. हालांकि, सुरक्षा की दृष्टि से शुरुआत में इसकी थोड़ी सी मात्रा ही खाकर देखें.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *