क्या इस फल को खाने से केरल में फैला Nipah Virus? देखने पर लोग खा रहे हैं धोखा!
स्वास्थ्य

nipah virus in kerala could be transmitted from rambutan fruit nipah virus symptoms rambutan benefits samp | क्या इस फल को खाने से केरल में फैला Nipah Virus? देखने पर लोग खा रहे हैं धोखा!

Nipah Virus Kerala and Rambutan fruit: कोरोना वायरस के बीच केरल में Nipah Virus के मामलों ने लोगों में हड़कंप मचा दिया है. कोझिकोड़ में निपाह वायरस से संक्रमित 12 वर्षीय की मौत हो गई है और अबतक उसके संपर्क में आए 11 लोगों में निपाह वायरस के लक्षण (Nipah virus symptoms) दिखने शुरू हो गए हैं. मृतक बच्चे के परिवारवालों ने बताया कि बच्चे की तबीयत रामबूटान फल (Rambutan Benefits) खाने के बाद से बिगड़ी थी. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने तुरंत पड़ोस में मौजूद फल के सैंपल्स जांच के लिए नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) भेजे हैं.

कुछ लोग रामबूटान फल को देखकर धोखा खा जाएंगे और लीची समझ बैठेंगे. लेकिन यह उससे अलग है. आइए जानते हैं कि आखिर क्या है ये रामबूटान फल और इसके जरिए कैसे फैल सकता है निपाह वायरस?

ये भी पढ़ें: National Nutrition Week: किस उम्र में कौन-सा फूड खाना चाहिए? क्या आप जानते हैं?

रामबूटान फल क्या है और इसके फायदे? (Rambutan fruit benefits)
रामबूटान फल (साइंटिफिक नाम: Nephelium lappaceum) दिखने में लीची की तरह होता है और अंदर से भी यह उसी की तरह दिखता है. रामबूटान फल एक गोल्फ बॉल के जितना बड़ा होता है, जिसके बाहर लाल और हरे रंग के लंबे बाल वाला छिलका होता है. रामबूटान फल का पेड़ लंबाई में 27 मीटर तक ऊंचा हो सकता है और दक्षिण-पूर्वी एशिया से ताल्लुक रखता है. आइए, रामबूटान फल के फायदे जानते हैं.

  1. हेल्थलाइन के मुताबिक, रामबूटान फल (rambutan fruit) में कई विटामिन, मिनरल्स व अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं. सिर्फ 5 से 6 रामबूटान फल खाने से आप दैनिक जरूरत का 50 प्रतिशत विटामिन सी प्राप्त कर सकते हैं.
  2. इसमें पर्याप्त मात्रा में कॉपर और फाइबर मौजूद होता है. जिसके साथ मैंगनीज, फॉस्फोरस, पोटैशियम, मैग्नीशियम, आयरन और जिंक भी मिलता है.
  3. यह पाचन को बेहतर बनाने में मदद करता है.
  4. नियमित रूप से रामबूटान फल खाने से वजन नहीं बढ़ता है और इसमें कैलोरी की मात्रा भी कम होती है.
  5. यह इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाकर संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करता है.
  6. डायबिटीज के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है.

रामबूटान फल आपको दक्षिण भारत में आराम से मिल जाता है.

ये भी पढ़ें: National Nutrition Week: डायबिटिक पेशेंट बेधड़क खा सकते हैं ये फूड, जानें मधुमेह के लिए हेल्दी डायट

केरल में Nipah Virus और रामबूटान के बीच संबंध
मृतक के परिवार ने बताया कि बच्चे की तबीयत पड़ोस से रामबूटान फल खाने के बाद बिगड़ने लगी. टीम ने फल के सैंपल्स जांच के लिए पुणे स्थित NIV भेज दिए हैं. आशंका जताई जा रही है कि रामबूटान फल में निपाह वायरस चमगादड़ के जूठा करने के कारण आया हो सकता है. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, संक्रमित होने के 4 से 14 दिन के भीतर निपाह वायरस के लक्षण (Nipah Virus Symptoms) इस प्रकार दिख सकते हैं.

  • निपाह वायरस के कारण हल्के से गंभीर रेस्पिरेटरी इंफेक्शन हो सकता है.
  • Nipah Virus Symptoms: बुखार, सिरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • उल्टी, गले में दर्द
  • चक्कर आना, बेहोश होना
  • निमोनिया
  • एन्सेफलाइटिस बुखार, आदि

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *