Moong dal is beneficial not only for patient also for healthy person mt
स्वास्थ्य

Moong dal is beneficial not only for patient also for healthy person mt

Moong Dal Benefits: मूंग की दाल (Moong dal) पेशेंट के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है, ये तो आप जानते ही हैं. लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि मूंग की दाल केवल पेशेंट (Patient) के लिए ही नहीं बल्कि सभी के लिए फायदेमंद होती है? अगर नहीं तो बता दें कि मूंग की दाल में राइबोफ्लेविन, विटामिन, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी -6, नियासिन, थायमिन, कॉपर और फोलेट जैसे तमाम पोषक तत्व (Nutrients) पाए जाते हैं. इसी वजह से मूंग की दाल केवल पेशेंट के लिए ही नहीं हम सभी की सेहत के लिए फायदेमंद होती है.

आइये आज आपको बताते हैं कि मूंग की दाल सेहत को क्या-क्या फायदे पहुंचाती है. जिससे आप भी अपनी डाइट में मूंग दाल शामिल करने के बारे में एक बार जरूर विचार करें.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है

मूंग की दाल खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. बता दें कि मूंग की दाल में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इन्फ्लामेट्री गुण पाए जाते हैं. जो इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मदद करते हैं.

ये भी पढ़ें: Winter Diet: ट्राई करें मूंग दाल के ये टेस्टी व्यंजन, मुंह का बदल जाएगा ज़ायका

ब्लड प्रेशर नियंत्रित करती है

ब्लड प्रेशर नियंत्रित करने में भी मूंग की दाल काफी फायदेमंद होती है. मूंग की दाल में एंटी-हाइपरटेंसिव गुण पाए जाते हैं जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करते हैं. साथ ही ब्लड प्रेशर को बढ़ने से रोकने में भी मददगार साबित होते हैं.

प्रोटीन की कमी पूरा करती है

मूंग की दाल बॉडी में प्रोटीन की कमी को पूरा करने में भी काफी मदद करती है. बता दें कि मूंग की दाल में नॉनवेज से ज्यादा प्रोटीन पाया जाता है. साथ ही चिकन की अपेक्षा काफी कम सैचुरेटेड फैट होता है.

डाइजेस्टिव सिस्टम को बेहतर बनाती है

डाइजेस्टिव सिस्टम को बेहतर बनाने में भी मूंग की दाल काफी सहायता करती है. मूंग की दाल खाने से गैस, कब्ज़, अपच जैसी परेशानी नहीं होती है और इसको डाइजेस्ट करना भी काफी आसान होता है.

ये भी पढ़ें: स्किन केयर के लिए इन 5 तरीके से कर सकते हैं मूंगदाल का इस्तेमाल

 डायबिटीज को नियंत्रित करती है

डायबिटीज को नियंत्रित करने में भी मूंग की दाल काफी सक्षम होती है. मूंग की दाल में और इसके स्प्राउट में भी ग्लूकोज का स्तर बहुत ही कम होता है. जिसके चलते मूंग दाल खाने से डायबिटीज नियंत्रण में रहती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health benefit, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.