मानसून में इस तरह से रखें अपना ख्याल, जानें क्या है सेहत के लिए फायदेमंद और क्या नुकसान
स्वास्थ्य

monsoon diet know what to eat or not to eat | मानसून में इस तरह से रखें अपना ख्याल, जानें क्या है सेहत के लिए फायदेमंद और क्या नुकसान

नई दिल्ली: मौसम के हर बदलाव के साथ, अपने आहार में बदलाव लाना जरूरी है. खासकर मानसून में खान पान का बेहद खास ख्‍याल रखना होता है क्‍योंक‍ि इस मौसम में इंफेक्‍शन जल्‍द ही पकड़ लेता है. इसके अलावा इस मौसम में जो इस बार ज्‍यादा कोताही बरतने की जरुरत इसल‍िए भी है क्‍योंक‍ि कोरोना का आतंक चारों तरफ छाया हुआ है. कई लोगों को मानसून डाइट के बारे में ज्‍यादा मालूम नहीं होता है इसल‍िए वो कुछ भी अनाप शनाप खा लेते हैं. नतीजन फूड प्‍वाइ‍जनिंग और डायर‍िया जैसी समस्‍याएं होने लगती है. 

अच्छी सेहत और मजबूत इम्यूनिटी के लिए बारिश के मौसम में आपको कई ऐसे खाद्य पदार्थ खाने चाहिए, जो आपकी इम्यूनिटी को बढ़ावा दें और इंफेक्शन, संक्रमण को दूर रखने में मदद करें. साथ ही यह भी जानें कि मॉनसून में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए.

सब्जियां

मॉनसून हरी पत्तेदार सब्जियां खाने का समय नहीं है. करेला, लौकी, कद्दू, शकरकंद, जिमीकंद, आदि ऐसी सब्जियां हैं, जिन्हें बारिश के मौसम में खाया जा सकता.

साबुत सूखे अनाज खाएं 

गेहूं, मक्का, जौ जैसे साबुत सूखे अनाज और दालों को अपनी डाइट में शामिल करना हेल्थ के लिए अच्छा है. इस मौसम में आसानी से मिलने वाले भुने भुट्टे के सेवन से पर्याप्त फाइबर मिलता है, जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है. इसके अलावा अपने आहार में सूखे मेवों को शामिल करना फायदेमंद है.

ये भी पढ़ें, अपने खानपान में इन 5 चीजों को करें शामिल, मॉनसून में बीमारियां छू भी नहीं पाएंगी 

बदल दीजिए सलाद का तरीका 

आमतौर पर हम कच्चे फलों और सब्जियों की सलाद खाना पसंद करते हैं. लेकिन बरसात के मौसम में अपने इस शौक को थोड़ा-सा बदल लेना चाहिए. बरसात के समय में सलाद को उबालकर बनाना चाहिए. आप जिन कच्चे फल या सब्जियों की सलाद खाना चाहते हैं, उन्हें अच्छी तरह धुलकर बॉइल कर लें. इसके बाद अपने मन-पसंद तरीके से इनकी सैलेड तैयार करें.

दूषित पानी से बचें 

मानसून के मौसम में दूषित पानी पीने से बीमारियां सबसे ज्यादा होती हैं. जल में मौजूद बैक्टीरिया हमारे शरीर में पहुंच कर डाइजेस्टिव सिस्टम पर असर डालते हैं, जिससे लिक्विड भी ठीक से पच नहीं पाता. इसलिए फिल्टर्ड पानी या उबला हुआ पानी इस्तेमाल करना बेहतर है. 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *