इन देशों में अजीब हालात: घर से निकले तो कोरोना का खतरा, अंदर रहे तो होगी ये बीमारी
स्वास्थ्य

many countries fighting with Covid-19 as well as Dengue | इन देशों में अजीब हालात, घर से बाहर निकले तो कोरोना का डर और अंदर रहे तो होगी ये बीमारी

नई दिल्‍ली: दुनिया अजीब से स्‍वास्‍थ्‍य संकट से गुजर रही है. कोरोना (Coronavirus) के डर से कई महीनों से लोग घर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं. वहीं अब ऐसी खबरें भी आई हैं कि घर पर रहने के कारण लोग डेंगू (Dengue) का शिकार हो रहे हैं. 

जाहिर है, साल 2020 में सभी देशों का पूरा ध्‍यान Covid-19 को रोकने पर है. ऐसे में अन्‍य बीमारियों की रोकथाम के प्रयासों पर काम नहीं हो पाया. इन बीमारियों में डेंगू भी शामिल है. यही वजह है कि सिंगापुर और इंडोनेशिया जैसे दक्षिणपूर्वी एशियाई देशों को इस साल कोरोना और डेंगू का एक साथ मुकाबला करना पड़ रहा है.  

ये भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन के लिए इस भारतीय ने दांव पर लगा दी अपनी जिंदगी, जानें कौन है ये शख्स

ब्राजील पर पड़ रही दोहरी मार 
कोरोना से बुरी तरह प्रभावित देशों की सूची में ब्राजील दूसरे नंबर पर है. यहां कोरोना वायरस के 16 लाख मामले सामने आ चुके हैं. वहीं पैन अमेरिकन हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के मुताबिक ब्राजील में डेंगू के 11 लाख मामले हैं. इतना ही नहीं डेंगू के कारण करीब 400 लोगों की मौत हो चुकी है. 

बरसात का मौसम शुरू होते ही क्यूबा, चिली और कोस्टा रिका जैसे लैटिन अमेरिकी देशों और भारत तथा पाकिस्तान जैसे दक्षिण एशियाई देशों में भी डेंगू के मामले बढ़ेंगे. डेंगू वैसे तो जानलेवा बीमारी नहीं है, लेकिन गंभीर मामलों में मरीज को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ती है.  

कोरोना ने भटकाया डेंगू से ध्‍यान 
यंग डॉक्टर्स एसोसिएशन के प्रमुख डॉ. रिजवान कुंडी ने बताया कि भारत की राजधानी में मच्छर के प्रजनन को रोकने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की टीम कोरोना संक्रमण की जांच में जुटी है. इसी तरह इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ रेडक्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसायटी के अमेरिकी क्षेत्रीय कार्यालय में स्वास्थ्य प्रमुख डॉ. मारिया फ्रेंका टालारिको ने कहा कि अनेक लैटिन अमेरिकी देशों में कोरोना के हजारों मामलों का पता चलने का मतलब है कि डेंगू को लेकर निगरानी प्रभावित हुई है.

पिछले साल डेंगू ने बिगाड़े थे हालात 
विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक डेंगू के मामलों के लिहाज से 2019 सबसे खराब साल था जब सभी क्षेत्र प्रभावित हुए और कुछ देश तो ऐसे थे जो डेंगू से पहली बार प्रभावित हुए थे.  

घर पर रहने से डेंगू होने का खतरा ज्यादा 
कोरोना काल में जब बाहर नहीं निकलना है, तब घर पर रहना भी खतरे से खाली नहीं है. सिंगापुर नेशनल एन्वॉयरमेंट एजेंसी ने कहा है कि घर पर रहने से डेंगू फैलने का खतरा भी बढ़ सकता है क्योंकि डेंगू का मच्छर दिन में काटता है और लोगों के अधिक समय तक घरों में रहने से लोगों को मच्छरों के काटने की संभावना भी बढ़ जाती है. डेंगू के मच्छर घरों में ही अधिक पनपते हैं.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *