Breakfast Tips: ब्रेकफास्ट में जरूर खाएं ये 2 चीजें, बढ़ेगी शारीरिक ताकत और बीमारी रहेंगी दूर
स्वास्थ्य

how to increase strength know what to eat in breakfast samp | Breakfast Tips: ब्रेकफास्ट में जरूर खाएं ये 2 चीजें, बढ़ेगी शारीरिक ताकत और बीमारी रहेंगी दूर

हेल्दी शरीर के लिए हेल्दी ब्रेकफास्ट करना चाहिए. सभी एक्सपर्ट ब्रेकफास्ट ना छोड़ने की सलाह देते हैं. क्योंकि, इससे शरीर को पूरे दिन के लिए जरूरी ताकत व एनर्जी मिलती है. वहीं, स्वस्थ नाश्ता करने से इम्युनिटी भी मजबूत होती है और आप कई बीमारियों से दूर रहते हैं.

सुबह उठते ही क्या पीना चाहिए? (What to drink on empty stomach)
कंसल्टेंट डाइटिशियन डॉ. रंजना सिंह बताती हैं कि आपको सुबह उठकर जितना जल्दी हो सके गुनगुना पानी पीना चाहिए. आप चाहें तो पानी में नींबू का रस और शहद भी मिला सकते हैं. इससे शरीर में पानी की कमी दूर होती है, एनर्जी मिलती है और शरीर से टॉक्सिन्स निकलने में मदद मिलती है.

ये भी पढ़ें: पुरुषों को ब्रेकफास्ट में खानी चाहिए ये 2 खास चीज, एकदम हो जाएंगे फिट

ब्रेकफास्ट कब करें और किस बात का ध्यान रखें? (When to eat Breakfast)
डाइटिशियन के मुताबिक, ब्रेकफास्ट करने का सही टाइम सुबह 8 बजे से 10 बजे के बीच में है. आपको उठने के 2 घंटे बाद ब्रेकफास्ट कर लेना चाहिए. आपको ध्यान रखना चाहिए कि नाश्ते में फाइबर, प्रोटीन, हेल्दी फैट्स, ताजे फल और सब्जियों का मिला-जुला मिश्रण हो.

ताकत बढ़ाने के लिए ब्रेकफास्ट में जरूर खाएं ये दो चीजें (Egg and Oats for Healthy Breakfast)
डाइटिशियन डॉ. रंजना सिंह का कहना है कि आपको नाश्ते में अंडे और ओट्स का सेवन जरूर करना चाहिए. ये दोनों ही चीजें ताकत बढ़ाने और शरीर को बीमारियों से दूर रखने में मदद करती हैं.

ब्रेकफास्ट में अंडा खाने के फायदे- नाश्ते में रोजाना दो अंडे खाने से शरीर को जरूरी प्रोटीन मिलता है. जो कि मसल्स और ताकत बढ़ाने के लिए जरूरी होता है. वहीं, अंडे खाने से पेट ज्यादा देर तक भरा रहता है, जिससे आपके अनहेल्दी फूड खाने की आशंका कम हो जाती है. वहीं, यह शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल को भी बढ़ावा देता है.

ये भी पढ़ें: How to eat Fruits: लोग नहीं जानते फल खाने का सही तरीका, इसलिए नहीं मिलता पूरा फायदा

ब्रेकफास्ट में ओट्स खाने के फायदे- नाश्ते में ओट्स खाना भी काफी फायदेमंद होता है. क्योंकि, इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है, जो शरीर में अतिरिक्त फैट का कारण नहीं बनता है. इसके साथ ही यह कब्ज की समस्या से राहत देता है, ब्लड शुगर नियंत्रित करता है और बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करता है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *