Health news white food items avoid by diabetes pateints pur
स्वास्थ्य

Health news white food items avoid by diabetes pateints pur

White Food Items Avoid By Diabetes Pateints: डायबिटीज रोगियों (Diabetes Patients) को अपनी सेहत का ख्याल रखने के लिए ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखना बहुत ही जरूरी है. आपको बता दें कि डायबिटीज रोगियों को बहुत से चीजों को खाने-पीने की मनाही होती है. वहीं डायबिटीज को लाइफस्टाइल और खान-पान में बदलाव करके कंट्रोल में रखा जा सकता है. ऐसा करने से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है. डायबिटीज के मरीज को ज्‍यादा कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate), फैट (Fat) और चीनीयुक्‍त मीठे पदार्थ खाने से बचना चाहिए. हालांकि खाने में तीन प्रकार के कार्बोहाइड्रेट मौजूद होते हैं- स्टार्च, शुगर और फाइबर. स्टार्च और शुगर डायबिटीज वाले लोगों के लिए सबसे बड़ी समस्या है क्योंकि शरीर इन्हें ग्लूकोज में तोड़ देता है.

रिफाइंड कार्ब्स, या रिफाइंड स्टार्च प्लेटों तक पहुंचने से पहले प्रोसेसिंग के जरिए टूट जाते हैं. इस वजह से शरीर उन्हें जल्दी अवशोषित कर लेता है और उन्हें ग्लूकोज में बदल देता है. इससे शरीर का ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है. रोजाना खाई जाने वाले सफेद रंग की कुछ चीजें स्टार्च और शुगर जैसे कार्ब्स से भरी होती हैं जिनका सेवन ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है. आइए जानते हैं कौन सी वो सफेद चीजें हैं जिनका सेवन डायबिटीज रोगियों को बिल्कुल नहीं करना चाहिए.

ये भी पढ़ें: Guava Benefits: कब्ज समेत पेट की इन दिक्कतों को दूर करने के लिए खाएं अमरूद

पास्ता
पास्ता को सॉस, क्रीम, चीज़ और बहुत सारे मक्खन से बनाया जाता है. इससे आपको बहुत ज्यादा कैलोरी, फैट और कार्बोहाइड्रेट मिलता है. यह मैदे से बना होता है जो कि शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है. इससे मोटापा बढ़ने का भी खतरा होता है. डायबिटीज रोगियों को पास्ता खाने से बचना चाहिए.

आलू
आलू लगभग सभी को पसंद होता है और इसके बिना कोई भी सब्जी टेस्टी नहीं बनती है. आलू में कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट, फैट, प्रोटीन और फाइबर मौजूद होता है. इसमें हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है और यह डायबिटीज के रोगियों के लिए सही नहीं है. आलू खाने से शरीर में ब्लड शुगर लेवल की मात्रा बढ़ती है.

मैदा
मैदे में अधिक मात्रा में स्टार्च मौजूद होता है जबकि विटामिन, मिनरल्स और फाइबर की मात्रा बहुत कम होती है. मैदे से बनी किसी भी चीज का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए हानिकारक साबित हो सकता है. मैदे का अधिक सेवन कब्ज की परेशानी तैयार कर सकता है. मैदे का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत ज्यादा होता है. यह लोगों को डायबिटीज और मोटापे का शिकार बना सकता है.

चीनी
चीनी से बने मीठे खाद्य पदार्थों में ज्यादातर शुगर और कार्बोहाइड्रेट मौजूद होते हैं. इनमें बहुत ही कम मात्रा में कोई भी पोषण तत्व मौजूद होता है और यह शरीर में ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बढ़ा सकती हैं. चीनी से वजन बढ़ाने, हार्ट संबंधी बीमारियों और स्ट्रोक का जोखिम भी अधिक होता है.

चावल
एक अध्ययन में पाया गया है कि जो लोग सफेद चावल खाते हैं उनमें टाइप 2 डायबिटीज विकसित होने का खतरा बहुत अधिक होता है. ऐसे में आपको प्री-डायबिटीज है, तो आपको चावल नहीं खाना चाहिए. सफेद चावल में हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जो बॉडी का ब्लड शुगर लेवल बढ़ा सकता है.

इसे भी पढ़ें: बेहद आसान है वजन घटाना, खाना-पीना न छोड़ें बल्कि बाजार की चीजों की जगह अपनाएं ये विकल्प

सफेद ब्रेड
सफेद ब्रेड सफेद आटे से बनी होती है, जो कि रिफाइंड स्टार्च से भरी होती है. यह चीजें चीनी की तरह काम करती हैं और बहुत जल्दी पच जाती हैं. इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है. सफेद ब्रेड का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा होता है. इसमें फाइबर की कमी भी होती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindinews18 इनकी पुष्टि नहीं करता हैइन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Diabetes, Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.