What is the connection of excess fat on the stomach with hormones know what experts say nav
स्वास्थ्य

Health news weight loss surgery in children is safe and can improve their health lak

weight loss surgery in children: खराब लाइफस्टाइल के कारण आज लोगों में मोटापा आम बात होती जा रही है. पूरी दुनिया के लिए यह परेशानी का सबब बन गया है. वयस्कों में यह बीमारी तो है ही, लेकिन बच्चे भी इससे कम परेशान नहीं हैं. डेलीमेल की खबर के अनुसार मोटापे की शुरुआत अगर बचपन से ही हो जाए, तो यह बेहद खतरनाक साबित हो सकती है. इसलिए बचपन में ही मोटापे पर लगाम लगाना बहुत जरूरी है. अधिकांश वयस्क मोटापे को कम करने के लिए बैरिएट्रिक सर्जरी (bariatric surgery) कराते हैं, लेकिन बच्चों में बैरिएट्रिक सर्जरी कराने से लोग डरते हैं. अब विशेषज्ञों ने इस चिंता को निराधार बताते हुए कहा है कि बच्चों की बैरिएट्रिक सर्जरी कराने से कोई नुकसान नहीं है. यह पूरी तरह सुरक्षित है और इससे बच्चे की हेल्थ बेहतर होती है.

इसे भी पढ़ेंः डायबिटीज और हाई बीपी के खतरे को कम करती है ‘Intermittent Fasting’

टाइप-2 डायबिटीज का खतरा भी टल जाता है
अभी तक डॉक्टर भी बच्चों को बैरिएट्रिक सर्जरी कराने से डरते हैं. सउदी अरब में हुए इस रिसर्च में इस चिंता को निराधार बताया गया है. रिसर्च में पाया गया है कि बच्चों में बैरिएट्रिक सर्जरी की प्रक्रिया से किसी तरह का नुकसान नहीं होता. शोधकर्ताओं ने कहा कि इसके स्पष्ट फायदे हैं. शोध में पाया गया कि बच्चों को बैरिएट्रिक सर्जरी शुरुआत में ही कर देने का फायदा एक दशक बाद भी दिखाई देता है. यहां तक कि टाइप-2 डायबिटीज का खतरा भी टल जाता है. अध्ययन में यह भी पाया गया कि बच्चों की हाईट पर भी इस सर्जरी का बुरा असर नहीं पड़ता है.

इसे भी पढ़ेंः नहीं छूट रही स्मोकिंग की लत? अपनाएं ये घरेलू नुस्खे और छोड़ें घूम्रपान

बचपन में सर्जरी कर देने से बाद में खतरा कम
किंग सउद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और इस शोध के प्रमुख लेखक डॉ अयाद अल्खातानी (Dr Aayed Alqahtani) ने बताया कि अगर आप बचपन में ही मोटापे के इलाज के लिए बैरिएट्रिक सर्जरी करा लेते हैं, तो बाद में मोटापे से संबंधित जो बीमारियां होने वाली होंगी, उनसे छुटकारा मिल सकता है. इससे जीवन की गुणवत्ता में भी सुधार आ सकती है. अगर आप सर्जरी कराने में देरी करते हैं, तो मोटापे से संबंधित बीमारियों को होने का जोखिम बढ़ सकता है.

इस अध्ययन में 2500 बच्चों पर पिछले 10 साल से नजर रखी गई. इन बच्चों की मोटापे की सर्जरी हुई थी. 5 से 21 साल तक बच्चे पर किए गए इस अध्ययन में पाया गया कि बैरिएट्रिक सर्जरी का कोई नुकसान नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *