Health news varicose veins causes symptoms treatment in hindi pra
स्वास्थ्य

Health news varicose veins causes symptoms treatment in hindi pra

Varicose Veins Causes, Symptoms And Treatment: अक्‍सर आपने देखा होगा कि कई लोगों के पैरों पर नीली या बैंगनी रंग की नसें नजर आने लगती हैं. इसकी वजह अधिक देर तक खड़ा रहना या चलना हो सकता है. इसे वेरिकोज वेन्‍स (Varicose Veins) कहा जाता है. वेरिकोज वेन्‍स की समस्‍या से पैरों में जलन, ऐंठन, टांगों में भारीपन, नसों के ऊपरी हिस्‍से में खुजली आदि के लक्षण (Symptoms) नजर आ सकते हैं.

त्‍वचा के नीचे जब नसें फैल जाती हैं तो वे वेरिकोज नस का रूप ले लेती हैं. ये नसें आगे चलकर तकलीफदेह हो जाती हैं और इसकी वजह से आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. मायोक्‍लीनिक के मुताबिक, वेरिकोज वेन्‍स मुड़ी हुई नसें होती हैं जो पैरों के आसपास या शरीर के निचले हिस्‍से में अधिक होती हैं. कई लोगों को वेरिकोज वेन्‍स से किसी तरह की समस्‍या नहीं होती, जबकि कुछ लोगों को इससे नसों में दर्द, खींच या तकलीफ का सामना करना पड़ता है. तो आइए जानते हैं कि वेरिकोज वेन्‍स होने की वजह, लक्षण और इलाज (Treatment) क्‍या हैं.

वेरिकोज वेन्स के लक्षण

-नसों में दर्द और सूजन होना.

-त्वचा के घाव का आसानी से ठीक न होना.

-सूखी व पपड़ीदार त्वचा नजर आना.

इसे भी पढ़ें : कच्चा बादाम खाने से लिवर और किडनी को हो सकता है नुकसान, जरा सम्‍हल कर करें इसका सेवन

-पैर या टखनों में सूजन.

-रात में पैर या अन्‍य भाग में ऐंठन या दर्द.

-नसों के आसपास त्वचा का मोटा और सख्त होना.

-नसों के आसपास त्वचा का रंग बदलना.

वेरिकोज वेन्स की वजह

ज्‍यादा देर खड़े रहना

अगर आप अधिक देर तक खड़े रहते हैं तो आपको वेरिकोज वेन्‍स की समस्‍या हो सकती है. ऐसे में थोड़ी-थोड़ी देर में पैरों को आराम देते रहें.

वजन ज्‍यादा होना

वजन बढ़ने से भी वेरिकोज वेन्स की समस्‍या हो सकती है. दरअसल, ज्‍यादा वजन होने से नसों पर दबाव पड़ता है और नसों में ब्‍लड फ्लो बि‍गड़ने लगता है.

डीप वेन थ्रोम्‍बोसिस

डीप वेन थ्रोम्‍बोसिस की वजह से वेरिकोज वेन्‍स की समस्‍या हो सकती है. इसमें शरीर के निचले भाग या पैर के कुछ हिस्‍सों में खून जमने लगता है. मोटापा, हाई बीपी, बार-बार गर्भधारण से भी ये समस्‍या हो सकती है.

अनुवांशिक वजह

कई बार ये समस्‍या आनुवांशिक भी होता है. अगर परिवार में किसी को वेरिकोज वेन्‍स की समस्‍या है तो आपको भी वेरिकोज वेन्‍स हो सकता है.

ये भी पढ़ें: Cholesterol Controlling Fruits: कोलेस्ट्रॉल को करना है कंट्रोल तो डाइट में शामिल करें ये 5 फल

वेरिकोज वेन्स हो तो क्‍या करें

-कम्‍प्रेशन वाले मोजे (Socks) पहनें.

-लेजर थैरेपी की मदद लें.

-एक्‍सरसाइज करें.

-अधिक देर तक खड़े रहने से बचें.

-स्क्लेरोथेरेपी कराएं.

-वजन कंट्रोल करें.

-टाइट जीन्‍स से बचें.

-हाई हील्‍स की बजाय कंफर्टेबल जूते पहनें.

ये बात है जरूरी

यह बात जान लें कि अगर आपको वेरिकोज वेन्‍स की वजह से किसी तरह की समस्‍या हो रही है और आप दर्द का सामना कर रहे हैं तो इसे इग्‍नोर न करें. आप जल्‍द से जल्‍द डॉक्‍टर से संपर्क करें.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.