Health news regular body checkup benefits in hindi mt
स्वास्थ्य

Health news regular body checkup benefits in hindi mt

Regular Health Checkup: हेल्दी और बेहतर स्वास्थ्य के लिए अच्छी डाइट और प्रॉपर रूटीन फॉलो करने के साथ-साथ रेगुलर हेल्थ चेकअप भी काफी जरूरी होता है. खासकर कोरोना वायरस महामारी के बाद रूटीन चेकअप (Routine Checkup) में काफी इजाफा देखने को मिला है. हालांकि, कई लोग व्यस्तता के चलते हेल्थ चेकअप (Health Checkup) को नजरअंदाज कर देते हैं. लेकिन इसके परिणाम काफी खतरनाक (Problems) हो सकते हैं.

बता दें, रेगुलर हेल्थ चेकअप डॉक्टर्स की सलाह पर समय-समय पर कराया जाता है. इसमें पैथोलॉजी टेस्ट, ब्लड टेस्ट, यूरिन टेस्ट, किडनी टेस्ट, लिवर टेस्ट जैसे कई अहम टेस्ट शामिल होते हैं. ऐसे में रेगुलर हेल्थ चेकअप की मदद से आप अपनी हेल्थ का खास ख्याल रख सकते हैं. आइए हम आपको बताते हैं रेगुलर हेल्थ चेकअप के कुछ फायदों के बारे में.

बीमारियों से राहत

रेगुलर हेल्थ चेकअप में लगभग पूरे शरीर का टेस्ट किया जाता है. ऐसे में इस टेस्ट के माध्यम से आप किसी भी बीमारी का आसानी से पता लगा सकते हैं. इस तरह आप किसी गंभीर बीमारी का शिकार होने से बच सकते हैं.

ये भी पढ़ें: अंदरूनी चोट से होने वाले दर्द में राहत के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

पहले फेज में होगा इलाज

रेगुलर हेल्थ चेकअप के कारण सभी छोटी-बड़ी बीमारियों का शुरूआत में ही पता लगाया जा सकता है. जिसके कारण बीमारी के पहले फेज में उसका इलाज करके भविष्य में होने वाली समस्याओं से निजात मिल जाती है और आप हमेशा हेल्दी रह सकते हैं.

कम रहता है जोखिम

रेगुलर हेल्थ चेकअप से किसी भी बीमारी के गंभीर होने या स्वास्थ्य को बड़ा नुकसान होने की संभावना बेहद कम हो जाती है. ऐसे में रेगुलर हेल्थ चेकअप न करवाना अपनी सेहत के साथ समझौता करने जैसा होता है.

कम होगा खर्चा

रेगुलर हेल्थ चेकअप न कराने के कारण समय के साथ बीमारी गंभीर और जटिल होती चली जाती है. जिसके चलते स्वास्थ्य प्रभावित होने के साथ-साथ इलाज पर ज्यादा खर्च होता है. इसलिए रेगुलर हेल्थ चेकअप की मदद से ऑउट ऑफ पॉकिट स्पैंडिंग यानी स्वास्थ्य पर होने वाले खर्चों से बचा जा सकता है.

ये भी पढ़ें: महिलाओं में वजन बढ़ना कई बीमारियों की है वजह, हो सकती हैं ये 8 शारीरिक और मानसिक समस्याएं

डॉक्टर से बनेगी पहचान

रेगुलर हेल्थ चेकअप कराने का एक फायदा ये भी है कि डॉक्टर्स आपके मेडिकल केस से पूरी तरह वाकिफ रहते हैं. साथ ही किसी सीरियस हेल्थ इशू में अलग-अलग टेस्ट की सलाह देने के बजाए रेगुलर हेल्थ चेकअप की फाइल पढ़कर बीमारी का कारण और इलाज का आसानी से पता लगा लेते हैं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health benefit, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.