Health news if taking IVF treatment you must know what to eat and what to not eat deep
स्वास्थ्य

Health news if taking IVF treatment you must know what to eat and what to not eat deep

Food During IVF Treatment- आज की तनावपूर्ण जीवनशैली के कारण लोगों में फर्टिलिटी की समस्या आम हो चुकी है. ऐसे में महिलाओं को इलाज के साथ आईवीएफ का भी सहारा लेना पड़ रहा है. आईवीएफ उन कपल्स के लिए आशा की किरण है जो नेचुरल तरीके से गर्भधारण करने में सक्षम नहीं हैं. ऐसे में जीवनशैली और खान पान का ध्यान रखना बेहद ज़रूरी है. कुछ खाद्य पदार्थ आईवीएफ उपचार में लाभ पहुंचा सकते हैं और कुछ ऐसे भी हैं जो उनकी प्रजनन क्षमता पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं. इसलिए ये जानकारी होनी ज़रूरी है की क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए. 

यह भी पढ़ें : जानें किस तरह स्ट्रेस का पड़ता है फर्टिलिटी पर असर

आईवीएफ उपचार के दौरान खाने के लिए खाद्य पदार्थ

फैट – स्वस्थ और प्लांट बेस्ड फैट  जैसे एवोकाडो, जैतून का तेल और अंगूर के बीज का तेल का सेवन करें. यह उन महिलाओं की भी मदद कर सकता है जो गर्भ धारण करने की कोशिश कर रही हैं.

स्वस्थ कार्ब्स- विशेष रूप से हाई फाइबर वाली चीजें जैसे कि फल, सब्जियां, बीन्स और साबुत अनाज जो धीरे-धीरे पचते हैं और ब्लड सुगर और इंसुलिन के स्तर पर  प्रभाव डालते हैं. ऐसे अनाज में विटामिन बी, विटामिन ई और फाइबर प्रचुर मात्रा में होते हैं.

डेयरी – प्रतिदिन एक या दो सर्विंग्स दूध या अन्य फुल फैट वाले डेयरी पदार्थों का सेवन करें जैसे कि दही, दूध आदि.

जिंक युक्त खाद्य पदार्थ- जिन खाद्य पदार्थों में जिंक की मात्रा अधिक होती है, वे हार्मोन संतुलन में मदद करते हैं. जिंक युक्त खाद्य पदार्थों में अनाज, नट्स, डेयरी उत्पाद, मांस और आलू शामिल हैं.

फॉलिक एसिड-विटामिन के साथ, फॉलिक एसिड (फोलेट या विटामिन बी 9) बच्चे के मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के स्वस्थ विकास में मदद करता है.फॉलिक एसिड ज्यादातर गहरे हरे रंग की सब्जियों जैसे पालक, ब्रोकोली, शतावरी, रोमेन लेट्यूस, शलजम के साग, बीन्स और मटर आदि में पाया जाता है.

प्रोटीन- गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन ज़रूरी है क्योंकि यह शरीर के विकास में मदद करता है और शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है.  प्रोटीन के लिए चिकन (चिकन ब्रेस्ट), मछली, टोफू, बीन्स, दाल, कम फैट वाला दही, दूध, पनीर, बीज, नट्स आदि का सेवन करें. 

यह भी पढ़ें: नवजात को हिचकी से कैसे दिलाएं राहत? जानें किस स्थिति में डॉक्टर की लें सलाह

इन चीजों से बनाएं दूरी 

  • कैफीन 
  • अलकोहल 
  • समुद्री मछली 
  • मीठा 
  • प्रोस्सेड फ़ूड और मीट

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.