Health news home remedies for injuries and swelling in hindi kee
स्वास्थ्य

Health news home remedies for injuries and swelling in hindi kee

Home Remedy For Injuries: आज के समय में हर व्यक्ति अपनी लाइफ़ में बहुत व्यस्त हो गया है. इस व्यस्त लाइफ़ (Busy Life) में अपने ऊपर ध्यान देना भी बहुत मुश्किल हो जाता है. कई बार तो ऐसा भी होता है कि इस व्यस्तता में लगी हल्की-फुल्की चोट को भी वो नज़रअंदाज़ कर देता है. जो समय के साथ-साथ बड़ा रूप ले लेती है, और असहनीय दर्द का कारण बन जाती है. कई बार ये अंदरूनी चोट (Injuries) इतनी तकलीफ़ देती है कि समझ नहीं आता क्या किया जाए. खास कर सर्दी के दिनों में पुरानी कई चोटें उभर कर आती हैं, और दर्द होने लगती हैं. इस तरह की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आज हम आपको बता रहें हैं कुछ घरेलू उपाय (Home Remedies) जिन्हें अपनाकर आप अपनी अंदरूनी चोट में आराम पा सकते हैं.

एलोवेरा
लगभग हर मर्ज की दवा कहे जाने वाले एलोवेरा में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाये जाते हैं. जिससे दर्द को कम करने में काफी सहायता मिलती है. उपचार प्रक्रिया को तेज करने में एलोवेरा जेल बेहद कारगर सिद्ध होता है. इसका इस्तेमाल आप घाव वाली जगह पर कर सकते हैं. एलोवेरा में ब्लड क्लॉटिंग को भी कम करने की क्षमता होती है. जिसके कारण खून का थक्का नहीं जमता.

यह भी पढ़ें – एक्सपर्ट की तरह मस्कारा लगाने के लिए फॉलो करें ये टिप्स

शहद और चूना
जिस जगह आपको चोट लगी है वहां आप शहद और खाने वाला चूना इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके उपयोग से आपको असहनीय दर्द से छुटकारा मिलेगा. शहद और चूने में चोट के दर्द को खींचने की क्षमता होती है. इसके लिए जिस जगह चोट लगी है वहां थोड़ा शहद और थोड़ा खाने वाला चूना मिलाकर लगाएं. इससे आपको चोट पर गर्माहट का एहसास होगा. इससे घबराएं नहीं इससे आपकी चोट में गर्माहट जाएगी और आपको काफी आराम मिलेगा.

यह भी पढ़ें – बालों की देखभाल में की जाने वाली ये हैं सामान्य गलतियां, जानें बचने के उपाय

हल्दी प्याज़
अंदरूनी चोट के असहनीय दर्द से राहत पाने के लिए आप हल्दी और प्याज का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. हल्दी में पाए जाने वाले एंटी बायोटिक गुण शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते हैं. इसी तरह हल्दी और प्याज़ का बाहरी उपयोग आपको पुरानी चोट में राहत देगा. इसके लिए हल्दी, प्याज़ को कूटकर सरसों के तेल में डालकर तवे पर गर्म कर लें. जब ये थोड़ा पक जाए और सहन करने वाली गर्माहट रह जाए तो चोट वाली जगह पर बांध लें. इस लेप को रात भर बांधकर रखें. आराम मिलेगा. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.