Health news diabetes can control through low carbohydrates and high protein lak
स्वास्थ्य

Health news diabetes can control through low carbohydrates and high protein lak

Diabetes Control Through Balanced Diet: हमने अपने लाइफस्टाइल को इतना खराब बना लिया है कि हर दिन सेहत से जुड़ी कोई न कोई समस्या जरूर खड़ी हो जाती है. खराब लाइफस्टाइल का सबसे बुरा परिणाम है डायबिटीज की बीमारी. जब हमारा खान-पान सही नहीं होता तो हमारे खून में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है, इसी से डायबिटीज हो जाती है. डायबिटीज के कारण बॉडी में कई दूसरी बीमारियां लग जाती हैं, जो जीवन की गुणवत्ता को खराब कर देती है. अगर हम अपने लाइफस्टाइल में सुधार कर लें, तो डायबिटीज की समस्या से निजात पा सकते हैं. टीओआई की खबर के मुताबिक यह बात यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया (University of British Columbia) और टीससाइड यूनिवर्सिटी (Teesside University) के अध्ययन में सामने आई है.

अध्ययन में कहा गया है कि डाइट में परिवर्तन लाकर हम टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) को आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं. अध्ययन के मुताबिक कम कैलोरी वाला भोजन और कम कार्बोहाइड्राइड के साथ-साथ भोजन नें प्रोटीन की मात्रा बढ़ाकर डायबिटीज पर कंट्रोल कर सकते हैं. इस अध्ययन को नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित गया है.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना खत्म होने को लेकर अगर मन में हैं सवाल, जानें क्या कहते हैं वैज्ञानिक

संतुलित खान-पान से डायबिटीज नियंत्रित हुई
डायबिटीज को डाइट के माध्यम से कंट्रोल करने की बात को साबित करने के लिए शोधकर्ताओं की टीम ने 12 सप्ताह तक डायटीशियन की देखरेख में एक अध्ययन किया. इसमें टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों को शामिल किया गया और उन्हें एक डाइट प्लान भी दिया गया. उनकी इस डाइट में कम कैलोरी, कम कार्बोहाइड्रेट और ज्यादा प्रोटीन वाला भोजन था. अध्ययन के दौरान इन लोगों की हेल्थ पर बारीक नजर रखी गई. वे कौन सी दवाइयां ले रहे थे, इसका भी ध्यान रखा गया. टीम के प्रमुख डॉ जोनाथन लिटिल ने बताया कि परिणाम से यह साफ था कि संतुलित खानपान से डायबिटीज पर पूरी तरह नियंत्रण किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंः खाने के बाद पेट में जलन और दर्द से रहते हैं परेशान, तो इन 3 घरेलू उपायों की लें मदद

दवाई की जरूरत भी नहीं रही
अध्ययन में शामिल लोगों को जब कम कैलोरी, कम कार्बोहाइड्रेट और उच्च प्रोटीन वाला भोजन दिया गया, तो उनकी हेल्थ इतनी सुधर गई कि उन्हें पहले से दी जा रही डायबिटीज की दवा की मात्रा भी कम करनी पड़ी. अध्ययन में शामिल लोगों की हेल्थ इतनी अच्छी हो गई कि 12 सप्ताह के दौरान एक तिहाई से ज्यादा मरीजों को दवाई की आवश्यकता ही नहीं रही। डॉ. जोनाथन ने कहा, इन मरीजों में निर्धारित खानपान से नियंत्रित ग्लूकोज, वजन और सिस्टोलिक रक्तचाप के साथ ही समग्र स्वास्थ्य में सुधार देखा गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *