Health News: शरीर की सारी गर्मी निकाल देगी ये ड्रिंक, इस दोष को कर देगी कम
स्वास्थ्य

health news ayurvedic drink to treat pitta dosha imbalance know ayurvedic drink recipe samp | Health News: शरीर की सारी गर्मी निकाल देगी ये ड्रिंक, इस दोष को कर देगी कम

आयुर्वेद में शरीर की तीन प्रकृति बताई हैं, वो हैं वात, पित्त और कफ. हर किसी के शरीर में इन तीनों में से एक दोष प्रमुख होता है. पित्त प्रकृति वाले लोगों में पित्त दोष असंतुलित होने के कारण शरीर की गर्मी बढ़ने लगती है. जिसकी वजह से कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं. लेकिन आप घर पर ही सिर्फ एक ड्रिंक बनाकर पीने से शरीर की सारी गर्मी निकाल देंगे. इस ड्रिंक की रेसिपी भी आयुर्वेदिक है.

पित्त दोष असंतुलित होने के लक्षण (imbalanced pitta dosh symptoms)
आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. रेखा ने बताया कि पित्त या अग्नि दोष असंतुलित होने के कारण बॉडी हीट और जलन जैसी समस्याएं बढ़ने लगती हैं. आर्ट ऑफ लिविंग के मुताबिक, पित्त दोष असंतुलित होने के कारण निम्नलिखित लक्षण दिखने लगते हैं.

ये भी पढ़ें: weight loss: भारती सिंह ने सिर्फ 1 तरीके से घटाया 15 किलो वजन, बेहद आसान है तरीका

असंतुलित पित्त दोष के शारीरिक लक्षण (ayurveda pitta dosha)

  • भूख या प्यास बढ़ जाना
  • बालो का सफेद होना या हेयर लॉस
  • संक्रमण
  • हॉर्मोन असंतुलित हो जाना
  • माइग्रेन
  • त्वचा में जलन महसूस होना
  • शरीर या मुंह से बदबू आना
  • गले में सूजन
  • जी मिचलाना
  • आंखे लाल रहना
  • सीने में जलन
  • इंसोम्निया
  • स्तन या अंडकोष में नरमी
  • पीरियड्स में हैवी ब्लीडिंग या असहनीय दर्द

असंतुलित पित्त दोष के भावनात्मक लक्षण

  • जलन
  • अस्थिरता
  • चिड़चिड़ापन
  • बेसब्र, आदि

ये भी पढ़ें: Yoga to increase stamina: अगर स्टैमिना कम है तो कर लो ये योगासन, ना होगी थकान ना फूलेगी सांस

pitta dosha treatment : शरीर की गर्मी निकालने वाली आयुर्वेदिक ड्रिंक
आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. रेखा के मुताबिक Sharngadhara Samhita में Dhanyaka Himam की रेसिपी बताई गई है. जो कि पित्त दोष को संतुलित करके शरीर की गर्मी, शरीर के अंदर जलन, अत्यधिक प्यास आदि को कम करने में मदद करती है.

सामग्री

  • 8 ग्राम धनिया के पिसे हुए बीज
  • 50 एमएल पानी
  • स्वादानुसार मिश्री

आयुर्वेदिक ड्रिंक बनाने की विधि (arurvedic drink recipe)

  1. रात में पानी के अंदर धनिया के बीज डाल लें.
  2. अब इस पानी को ढककर रातभर छोड़ दें.
  3. अगली सुबह पानी को एक गिलास में छान लें.
  4. इसके बाद इसमें स्वादानुसार मिश्री डाल लें.
  5. इस आयुर्वेदिक ड्रिंक को सुबह खाली पेट पीना है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *