Health news 6 home remedies to get rid of gum problem in hindi kee
स्वास्थ्य

Health news 6 home remedies to get rid of gum problem in hindi kee

Gum Problem: दांत हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. ये ना सिर्फ हमारी खाने में मदद करते हैं, बल्कि हमारी खूबसूरती में भी चार चांद लगाते हैं. दांतों (Teeth) में दर्द या दांतों से जुड़ी समस्या के लिए कई सारे कारण ज़िम्मेदार होते हैं. जो आगे चलकर बड़ी बीमारी का रूप ले लेते हैं. इनमें सही तरीके से ब्रश (Brush) ना करना, बिना पानी पिए या कुल्ला करे जूठे मुंह सो जाना, स्मोकिंग करना, या फिर ज़रूरत से ज्यादा मीठे का सेवन करने से मुंह में बैक्टीरिया जमा होने लगते हैं. इससे मुंह से बदबू, मसूड़ों (Gum) से खून और दांत हिलना आदी पीरियोडोंटल के लक्षण हो सकते हैं. हेल्थ लाइन की खबर के अनुसार पीरियोडोंटल से निजात पाने के कई पारंपरिक तरीके हैं. जिन्हें अपना कर आप अपने मसूड़ों को स्वस्थ रख सकते हैं.

बीमारी से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये उपाए

1. नीलगिरी का तेल
2008 के एक अध्ययन के अनुसार, नीलगिरी का तेल एक एंटी इन्फ्लामेट्री डिसइन्फेक्टेंट है जो घटते मसूड़ों का इलाज कर सकता है और नए गम सेल्स को बनाने में मदद करता है.

यह भी पढ़ें – सर्दियों में सिंपल ब्लाउज़ की जगह साड़ी के साथ पहनें ये चीजें, लगेंगी एकदम स्टाइलिश

2. नमक
साल 2016 के एक अध्ययन के अनुसार नमक का उपयोग बैक्टीरियल एजेंट के रूप में किया जाता है. इससे मसूड़ों में होने वाली सूजन कम होती है. इसके लिए खारे पानी से कुल्ला करने की सलाह दी जाती है.

कैसे करें
1 टी स्पून नमक और 1 कप गर्म पानी को अच्छी तरह मिला लें
इस खारे पानी के मिश्रण को अपने मुंह में 30 सेकंड के लिए रखें और फिर कुल्ला कर लें.
इसे दिन में दो से तीन बार दोहराएं.

3. ग्रीन टी
2009 के एक अध्ययन के अनुसार, ग्रीन टी पीने से दांतों और मसूड़े स्वस्थ रहते हैं. ग्रीन टी वास्तव में कई बीमारियों से दांतों और मसूड़ों को दूर रख सकती है. कोशिश करें कि रोजाना एक से दो कप ग्रीन टी पीएं.

4. पुदीना एसेंशियल ऑयल
यूरोपियन जर्नल ऑफ डेंटिस्ट्री में 2013 के एक लेख के अनुसार, पेपरमिंट ऑयल मुंह में रोग पैदा करने वाले सूक्ष्मजीवों को पनपने नहीं देता है.

यह भी पढ़ें – सर्दियों में ट्राई करें 5 तरह की हेयर स्टाइल, दिखेंगी स्टाइलिश

5. एलोवेरा
2009 के एक अध्ययन से पता चला है कि एलोवेरा ओरल हेल्थ के लिए काफी उपयोगी है. औषधीय गुणों से भरपूर एलोवेरा जेल को सूजे मसूड़ों में इंजेक्ट करने से पीरियडोंटल की समस्या में राहत मिलती है.

6. हल्दी जेल
हल्दी में करक्यूमिन होता है, जो अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाना जाता है. 2015 के एक अध्ययन के अनुसार, हल्दी जेल संभवतः मसूड़े की सूजन को रोकता है.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.