Fake Test: क्या आप खरीद रहे हैं मिलावटी दूध, घी या पनीर, चुटकी में ऐसे करें चेक
स्वास्थ्य

fake or pure test of milk and milk products like paneer ghee butter janiye milwati doodh ki pehchan samp | Fake Test: क्या आप खरीद रहे हैं मिलावटी दूध, घी या पनीर, चुटकी में ऐसे करें चेक

दूध और उससे बने उत्पाद जैसे घी, पनीर, खोया आदि हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं. लेकिन आज के समय में कई लोग मुनाफा बढ़ाने के लिए दूध और उससे बने उत्पादों में मिलावट करने लगा है. इस मिलावटी दूध और पनीर आदि का सेवन करना स्वास्थ्य को मिलने वाले फायदे घटा देता है.

लेकिन आप मिलावटी दूध, मिलावटी पनीर और मिलावटी घी की पहचान कर सकते हैं. वो भी घर बैठे. आइए जानते हैं कि कैसे दूध का दूध और पानी का पानी किया जाता है.

ये भी पढ़ें: Home Remedies for Lice: रातों रात सिर की जुओं से मिलेगा छुटकारा, बस करना होगा ये छोटा-सा काम

कैसे करें दूध में पानी की पहचान (water in milk test)
FSSAI के मुताबिक, नकली और असली दूध की पहचान करने के लिए इस तरीके को अपनाया जा सकता है.

  1. सबसे पहले एक पॉलिश और ढलान वाली जगह पर दूध की एक बूंद डालें.
  2. अगर दूध असली होगा, तो वह रुका रहेगा या धीरे-धीरे नीचे जाएगा और अपने पीछे सफेद रंग की एक लंबा निशान छोड़ता जाएगा.
  3. वहीं अगर दूध में पानी मिलाया गया है, तो वह बिना कोई निशान छोड़े नीचे सरक जाएगा.

दूध में डिटर्जेंट की पहचान कैसे करें (fake or pure milk test)

  1. 5ml से 10ml दूध लेकर इतने ही पानी में मिलाएं.
  2. इस मिश्रण को अच्छी तरह हिलाएं.
  3. अगर दूध में डिटर्जेंट मिला हुआ है, तो दूध में साबुन का गाढ़ा झाग उठने लगेगा.
  4. शुद्ध दूध के ऊपर हिलाने के कारण हल्का झाग आएगा.

ये भी पढ़ें: Vitamin D से भरे हुए फूड कम कर सकते हैं कोरोना का खतरा, जानें इन फूड्स के बारे में!

दूध व उसके उत्पाद (पनीर, खोया और छेना) में स्टार्च की पहचान

  1. 5ml पानी के साथ 2-3ml सैंपल को उबालिए.
  2. इसे ठंडा करके इसमें 2 से 3 बूंद आयोडीन टिंक्चर डालिए.
  3. अगर मिश्रण में नीला रंग आता है, तो यह स्टार्च की निशानी है और अगर रंग सफेद ही रहता है, तो आपका पनीर, खोया या छेना शुद्ध था.
  4. दूध में स्टार्च का पता लगाने के लिए आपको पानी मिलाने और उबालने की जरूरत नहीं है.

असली और नकली घी को कैसे पहचानें (fake or pure ghee test)

  1. एक पारदर्शी बर्तन में आधा चम्मच घी या मक्खन डालें.
  2. अब इसमें 2 से 3 बूंद आयोडीन टिंक्चर डालें.
  3. अगर घी के अंदर शकरकंद, मैश्ड आलू या अन्य स्टार्च मिलाए गए हैं, तो इसका रंग नीला हो जाएगा.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *