Exercising too much is not the cause of knee arthritis study nav - ज्यादा एक्सरसाइज करना घुटने के गठिया की वजह नहीं
स्वास्थ्य

Exercising too much is not the cause of knee arthritis study nav – ज्यादा एक्सरसाइज करना घुटने के गठिया की वजह नहीं

Exercise is not cause of Osteoarthritis : एक्सरसाइज करना आपकी हेल्थ के लिए अच्छा होता है, इससे तो कोई भी इनकार नहीं करेगा. लेकिन अक्सर आपने लोगों को ये कहते हुए सुना होगा कि ज्यादा एक्सरसाइज करने से जोड़ों के दर्द का रिस्क बना रहता है. लेकिन अब इंटरनेशनल रिसर्चर्स की एक टीम ने ये दावा किया गया है कि ऐसा कुछ भी नहीं है. इन शोधकर्ताओं की स्टडी से ये पता चला है कि एक्सरसाइज और घुटने में गठिया (knee arthritis) के विकास के बीच कोई संबंध नहीं है. आर्थराइटिस एंड रुमेटोलॉजी (Arthritis & Rheumatology) नामक जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं द्वारा किया गया है. रिसर्चर्स ने हाल ही में घुटने के पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis) वाले 5065 प्रतिभागियों के 6 वैश्विक अध्ययनों का व्यापक विश्लेषण (Comprehensive analysis of global studies) किया और 5 से 12 सालों तक इसे ट्रैक किया. इसमें पाया गया कि 45 साल से ज्यादा उम्र के इन वयस्कों के लिए ज्यादातर मनोरंजक गतिविधियां रिस्क फ्री होती हैं. यहां मनोरंजक गतिविधियों में दौड़ना, साइकिल चलाना, तैराकी, या खेलकूद है.

स्टडी में पाया गया कि इन सबका घुटने पर बहुत कम या कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, वहीं ऐसा कोई भी काम जिसमें भारी वजन उठाना, घुटने टेकना, या जिसमें पूरे शरीर में कंपन या गति शामिल है, वह अभी भी जोखिम भरा है.

रिसर्च में फिजिकल एक्सरसाइज की जांच की गई
ऑक्सफोर्ड  के रिसर्चर्स का कहना है कि ये अपने आप में पहली स्टडी है जिसमें फिजिकल एक्सरसाइज की जांच और एक्टिविटी के दौरान बर्न हुई कैलोरी और घुटने के ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis) के बीच संबंधों का आंकलन किया गया.

यह भी पढ़ें- यदि आपको है भूलने की बीमारी, तो इन घरेलू तरीकों से बढ़ाएं अपनी याददाश्त

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के डॉ थॉमस पेरी (Thomas Perry) ने बताया,  “इस स्टडी के निष्कर्षों से पता चलता है कि पूरी बॉडी की फिजिकल एक्टिविटी, खेल, चलने-फिरने, साइकिल चलाने के दौरान शारीरिक ऊर्जा खपत (physical energy consumption) घुटने के पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis) से जुड़ा नहीं है.’

यह भी पढ़ें- स्‍वाद ही नहीं, सेहत के लिए भी फायदेमंद हैं ये 6 भारतीय मसाले, एसिडिटी से लेकर कब्‍ज तक में आता है काम

दौड़ने की आदत गठिया से बचाएगी
वहीं एक अन्य स्टडी में ये देखा गया है कि दौड़ने यानी रनिंग की आदत गठिया से 12 साल सुरक्षा देने में मददगार है. स्टडी के मुताबिक दौड़ने की आदत से आगे की लाइफ में गठिया के लक्षण 12 साल देर से शुरू होते हैं. ये भी पाया गया है कि एक्सरसाइज नहीं करने वालों की तुलना में धावकों में गठिया की शुरुआत औसतन 12 साल देर से होती है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.