Digestion Tips: पाचन को सही रखने के लिए क्या करें और क्या ना करें? एक्सपर्ट की जरूरी सलाह
स्वास्थ्य

digestion tips 5 things to do or not to do for good digestion janiye pachan ke liye tips samp | Digestion Tips: पाचन को सही रखने के लिए क्या करें और क्या ना करें? एक्सपर्ट की जरूरी सलाह

हमारा स्वास्थ्य पाचन पर काफी निर्भर करता है. अगर हमारा पाचन तंत्र (digestive system) बुरी तरह से प्रभावित होता है, तो पाचन बिगड़ने लगता है. जिस कारण हमारा पाचन तंत्र खाने को छोटे-छोटे टुकड़े में नहीं तोड़ पाता, जिसे हम खाना पचाना कहते हैं. ढंग से खाना ना पचने पर पेट फूलना, गैस, उल्टी, पेट या सीने में जलन आदि समस्याएं होने लगती हैं.

आपको बता दें कि हम जो खाते हैं, वो खाना करीब दो घंटे तक हमारे पेट में रहता है. जिसके बाद वो छोटी आंत में जाता है, जहां उसे दोबारा से छोटे-छोटे हिस्सों में तोड़ा जाता है. अंत में खाना बड़ी आंत में जाता है, जहां उससे बचा हुआ पोषण और पानी सोख लिया जाता है और फिर रेक्टल में मल स्टोर हो जाता है. लिवर और पैंक्रियाज भी खाना पचाने में मदद करते हैं.

ये भी पढ़ें: Lower Body Stretch: सिर्फ 3 मिनट करनी है ये स्ट्रेचिंग, पैरों को मिलेंगे जबरदस्त फायदे

अच्छे पाचन के लिए ये 5 काम करें – 5 things to do for good digestion
न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर के मुताबिक पाचन को सुधारने के लिए इन 5 कामों को करना चाहिए.

  1. दोपहर के खाने के बाद घी और गुड़ खाएं.
  2. सुबह सबसे पहले या शाम के समय एक केला रोजाना खाएं.
  3. किशमिश वाली दही जमाकर खाएं.
  4. रोजाना शारीरिक गतिविधि बढ़ाएं.
  5. दोपहर में कम से कम 15-20 मिनट की पावर नैप लें.

ये भी पढ़ें: World Alzheimer’s Day 2021: अल्जाइमर से लड़ने में मदद करेंगे ये फूड, क्या आप खा रहे हैं?

अच्छे पाचन के लिए ये 5 काम ना करें – 5 things not to do for good digestion
न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर के मुताबिक पाचन को सही रखने के लिए इन 5 कामों को नहीं करना चाहिए.

  1. पानी की कमी ना होने दें.
  2. शाम 4 बजे के बाद चाय या कॉफी ना पीएं.
  3. खाने का पोर्शन सही रखें. जैसे चावल या रोटी से ज्यादा दाल या सब्जी ना खाएं.
  4. डाइट से घी, नारियल, मूंगफली आदि ना हटाएं और लैक्सेटिव ना लें.
  5. शारीरिक गतिविधि व एक्सरसाइज ना छोड़ें.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *