क्या आपको भी होती है सांस लेने में तकलीफ? जानें कारण और इलाज
स्वास्थ्य

difficulty in breathing may these reasons are responsible | क्या आपको भी होती है सांस लेने में तकलीफ? जानें कारण और इलाज

नई दिल्ली: सांस लेने में दिक्कत एक आम समस्या है. ज्यादा खाना खाने के बाद भी सांस लेने में परेशानी (breathing problem) अनुभव हो सकती है. लेकिन यदि ऐसा बार-बार होता है और लंबे समय तक यह स्थिति बनी रहती है तो ध्यान देने की जरूरत है. सांस नली के जाम होने या फेफड़ों में छोटी-मोटी परेशानी होने पर सांसें छोटी आने लगती हैं. यदि आपको यह समस्या लंबे समय से है तो यह किसी दूसरी बीमारी का लक्षण हो सकता है, जैसे अस्थमा, क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज यानी (सीओपीडी) और निमोनिया. आइये जानते किस कारण हो सकती ये समस्या (reason of breathing problem).

तनाव के कारण
जो लोग बहुत अधिक तनाव (tension) में रहते हैं, उन्हें अक्सर सांस लेने में समस्या होती है. वे या तो बहुत जल्दी-जल्दी सांस लेते हैं या सीने में भारीपन का अहसास होने के कारण उनकी सांस लेने की गति बहुत धीमी होती है. इन दोनों ही स्थितियों में उनकी सांस बहुत छोटी होती है. इस कारण उनके फेफड़ों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन (oxygen) नहीं पहुंच पाती है और इससे सांस लेने में दिक्कत होती है.

सूजन और इंफेक्शन के कारण छोटी सांसे
सांस की नली में सूजन, किसी इंफेक्शन या किसी अन्य कारण से जब ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में शरीर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाती है तो आपकी सांसे छोटी होने लगती हैं. यह बीमारी अगर लंबे समय से चली आ रही है तो अस्थमा, निमोनिया या क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी) का लक्षण हो सकती है.

ये भी पढ़ें, क्या प्रेग्नेंसी के दौरान गर्म पानी पीना सेफ है? जानिए इसका जवाब

वजन ज्यादा होना
जिसका वजन जितना ज्यादा होगा (heavy weight), उसे सांस लेने में उतनी ही तकलीफ होगी. आपको बता दें कि मोटे लोगों को सांस फूलने की बहुत ही ज्यादा समस्या रहती है. ऐसे में थोड़ा सा चलने, दौड़ने या सीढि़यां चढ़ने पर परेशानी होने लगती है.

यूं पाएं सांस में तकलीफ से राहत
-अपने घर को साफ रखने के अलावा अपने बिस्तर को भी साफ रखें. घर में वेंटिलेशन का पूरा ध्यान दें.
-सिगरेट पीते हैं तो इसे जल्दी से छोड़ दें. धूम्रपान (smoking) की वजह से न केवल आपको सांस लेने में दिक्कत होगी बल्कि कैंसर (cancer) जैसी कई गंभीर समस्याओं का भी आपको सामना करना पड़ सकता है.
-व्यायाम नहीं करते हैं तो आप सुबह-शाम व्यायाम करना शुरू कर दें. ध्यान दें, अगर आप प्रदूषित शहर में रहते हैं, तो कोशिश करें कि आप घर पर ही व्यायाम करें.
-वजन कम करने की कोशिश करें. मोटापा फेफड़े को सही ढंग से काम करने से रोकता है. इसके लिए आप अपने खाने-पीने पर ध्यान दें.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय अपनाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें) 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *