कोरोना के टीके जल्‍द नहीं आए तो भारत की आर्थिक तेजी पर पड़ेगा असर, जानिए कितना होगा नुकसान
स्वास्थ्य

Delayed Corona vaccine may affect Indian Economy too | कोरोना के टीके जल्‍द नहीं आए तो भारत की आर्थिक तेजी पर पड़ेगा असर, जानिए कितना होगा नुकसान

नई दिल्ली: कोरोना वैक्सीन सिर्फ लोगो की जान बचाने के लिए ही नहीं बल्कि अर्थव्यवस्था के लिए भी जरूरी होता जा रहा है. हाल ही में तैयार एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि अगर जल्द भारत को कोरोना वायरस का वैक्सीन नहीं मिलता है तो देश की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ेगा

मौजूदा वित्तीय वर्ष में पड़ेगा बुरा असर
वैश्विक ब्रोकिंग कंपनी बैंक ऑफ अमेरिका सिक्युरिटीज के मुताबिक यदि टीका आने में लंबा समय लगा तो भारतीय अर्थव्यवस्था 2020-21 में 7.5 प्रतिशत तक सिकुड़ सकता है. हालांकि, परिस्थितियां यदि उम्मीद के मुताबिक रहती हैं तो भारतीय अर्थव्यवस्था में चार प्रतिशत गिरावट का अनुमान लगाया गया है.

कंपनी के अर्थशास्त्रियों ने एक हफ्ते के भीतर ही देश की वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि को लेकर अपने अनुमान को संशोधित किया है. रिपोर्ट के मुताबिक देश में आर्थिक गतिविधियों में आई गिरावट के चलते यदि उम्मीद के अनुरूप स्थिति रहती है तब भी अर्थव्यवस्था चार प्रतिशत सिकुड़ने का अनुमान है.

हालांकि, इससे पहले कई विश्लेषकों ने भारतीय अर्थव्यवस्था में चालू वित्त वर्ष के दौरान पांच प्रतिशत तक गिरावट आने का अनुमान व्यक्त किया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना वायरस का टीका खोजे जाने को लेकर वैश्विक और घरेलू दोनों जगहों पर कई स्तरों पर प्रयास किए जा रहे हैं. लेकिन टीका तैयार होने को लेकर अभी तक किसी समयसीमा की घोषणा नहीं की गई है.

ये भी पढ़ें: सुंदर पिचाई ने की प्रधानमंत्री मोदी से बात, डिजिटल इंडिया पर इतने करोड़ निवेश करेगा Google

रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि अगर वैश्विक अर्थव्यवस्था को कोविड-19 के टीके का इंतजार एक साल तक करना पड़ता है तो देश की वास्तविक जीडीपी 7.5 प्रतिशत तक गिर सकती है  विशेषज्ञों ने अनुमान जताया कि देश में आर्थिेक हालात को बेहतर बनाने के लिए 2020-21 में भारतीय रिजर्व बैंक नीतिगत दरों में दो प्रतिशत की और कटौती कर सकता है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *