Best time of Lunch: क्या आप सही समय पर खा रहे हैं दोपहर का खाना, वरना कर देंगे गलती
स्वास्थ्य

best time of eating lunch benefits for health janiye dophar ke khane ke fayde samp | Best time of Lunch: क्या आप सही समय पर खा रहे हैं दोपहर का खाना, वरना कर देंगे गलती

Right time to eat lunch: शारीरिक ताकत व ऊर्जा के लिए सही खानपान काफी महत्वपूर्ण है. अगर आप अस्वस्थ खाना खाएंगे या गलत समय पर खाएंगे, तो आपको कई समस्याएं घेर सकती हैं. हर कार्य की तरह दोपहर का खाना यानी लंच करने का भी एक सही समय होता है. जिस समय आपके शरीर को पोषण और ऊर्जा की ज्यादा जरूरत होती है. आइए इस आर्टिकल में दोपहर का खाना खाने का सही समय (Good Time for Lunch) जानते हैं.

ये भी पढ़ें: Health Tips: इस बर्तन में रखना चाहिए पीने का पानी, बीमारियां पास भी नहीं भटकेंगी, मिलेंगे ढेरों फायदे

Best time of eating lunch: दोपहर में किस समय खाना चाहिए खाना?
कई भारतीय सेलिब्रिटी को खानपान व पोषण की सलाह देने वाली न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर का कहना है कि दोपहर का खाना खाने का सबसे सही समय दोपहर 11 बजे से 1 बजे के बीच होता है. आपको इस अवधि के बीच में खाना खा लेना चाहिए.

अगर सही समय पर लंच नहीं कर सकते, तो क्या करें?
न्यूट्रिशनिस्ट का कहना है कि अगर आप किसी भी कारण से दोपहर के 11 बजे से 1 बजे के बीच लंच नहीं कर सकते हैं, तो आपको इस दौरान एक केला खा लेना चाहिए. उसके बाद जब भी समय मिले, तब लंच कर लें. यह टिप अपनाने से आपको एसिडिटी और सिरदर्द नहीं होगी.

ये भी पढ़ें: Sawan Somvar vrat food: सावन के व्रत में ये चीज खाने से आएगी ताकत, जानें सेवन का सही समय

दोपहर का खाना खाने के फायदे (Eating Lunch Health Benefits)
दिन में तीन टाइम का खाना बहुत जरूरी है. लंच में आपको कैलोरी, प्रोटीन, कार्ब्स, फाइबर, फैट, विटामिन आदि का ख्याल रखना चाहिए. आइए, दोपहर का खाना यानी लंच के फायदे (Eating Lunch Benefits) जानते हैं.

  1. समय पर लंच करने से आपकी खोई हुई ताकत और एनर्जी वापिस आती है.
  2. दोपहर का संतुलित खाना खाने से ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है और फोकस बढ़ाता है.
  3. सही इंटरवल पर खाना खाने से आपका मेटाबॉलिज्म सक्रिय रहता है.
  4. लंच में शामिल पोषक तत्वों की मदद से कई समस्याओं से बचाव भी किया जा सकता है. आदि

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *