Health News: आज से ही छोड़ दें इस तरह चाय पीना, वरना झेलनी पड़ेगी ये दिक्कत
स्वास्थ्य

avoid this mistake while drinking tea know how reheating tea will harm body samp | Health News: आज से ही छोड़ दें इस तरह चाय पीना, वरना झेलनी पड़ेगी ये दिक्कत

हम लोगों के लिए चाय के बिना सुबह की शुरुआत करना जिंदगी छीन लेने जैसा है. क्योंकि, चाय पीना हमारे मॉर्निंग रुटीन का एक अभिन्न हिस्सा है. हर किसी का चाय पीने का अलग तरीका है. कोई आंख खुलते ही चाय पीता है, कोई फ्रेश होने के बाद चाय पीता है. कुछ लोग तो चाय के इतने शौकीन होते हैं कि सुबह के समय ही ज्यादा सी चाय बनाकर रख लेते हैं और बाद में गर्म कर-करके उसे पीते (drinking reheating tea) रहते हैं.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि चाय को बार-बार गर्म करके पीना सेहत के लिए काफी नुकसानदायक होता है. इसके कारण आपको कई दिक्कतें झेलनी पड़ सकती हैं. आइए जानते हैं कि चाय को गर्म करके पीने या ज्यादा चाय पीने से कौन-सी दिक्कतें (side effects of drinking tea) हो सकती हैं.

ये भी पढ़ें: How to cook rice : इस तरीके से बनाना शुरू करें चावल, वरना बढ़ता है कैंसर व हार्ट डिजीज का खतरा

Reheating Tea : दोबारा गर्म करके चाय पीने के नुकसान
एक्सपर्ट के मुताबिक, जब हम चाय को दोबारा गर्म करते हैं, तो उसके स्वाद के साथ उसका एरोमा यानी खुशबू भी कम हो जाती है. वहीं, इस दौरान चाय का पोषण या कहें इसकी खासियत भी कम होने लगती है. एक्सपर्ट, दोबारा चाय गर्म करने का दूसरा नुकसान यह भी मानते हैं कि ज्यादा देर रखी चाय में माइक्रोबियल ग्रोथ होने लगती है. जिसका सेवन पेट के लिए खतरनाक हो सकता है. इसके कारण पेट खराब होना, पेट में दर्द होना या इंफ्लामेशन होने की शिकायत हो सकती है. हर्बल चाय को दोबारा गर्म करने के साथ भी यही दिक्कत है.

ये भी पढ़ें: Foods to avoid : High Blood Pressure में भूलकर भी ना खाएं ये चीजें, हालत हो जाएगी नाजुक!

Tea Side Effects : ज्यादा चाय पीने के नुकसान
चाय में मौजूद टैनिन शरीर में आयरन के अवशोषण को कम कर देता है. जिससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में आयरन नहीं मिल पाता है. वहीं, ज्यादा चाय पीने से आंतों पर बुरा असर पड़ता है. साथ ही दिल की असामान्य धड़कन, दिल की बीमारी, मोटापा, एसिडिटी होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *