Asthma Symptoms in Babies: छोटे बच्चों में अस्थमा होने पर दिखते हैं कौन-से लक्षण, जरूर पढ़ें ये खबर
स्वास्थ्य

asthma symptoms in babies know here chhote bachon me dama ki bimari samp | Asthma Symptoms in Babies: छोटे बच्चों में अस्थमा होने पर दिखते हैं कौन-से लक्षण, जरूर पढ़ें ये खबर

छोटे बच्चों की समस्या के बारे में सटीक पता लगाना थोड़ा मुश्किल होता है. क्योंकि वह खुद बोल नहीं पाते हैं, जिससे उनकी परेशानी के बारे में सही-सही अंदाजा नहीं हो पाता है. लेकिन, माता-पिता को शिशु में अस्थमा के लक्षणों (asthma symptoms in hindi) के बारे में जानकारी होनी चाहिए. जिससे वह उचित कदम उठा सकें. आइए जानते हैं कि छोटे बच्चों में अस्थमा के लक्षण (symptoms of asthma in babies) क्या दिखाई देते हैं.

छोटे बच्चों में अस्थमा के लक्षण
अस्थमा एंड एलर्जी फाउंडेशन ऑफ अमेरिका के मुताबिक जब बच्चों में अस्थमा हो जाता है, तो निम्नलिखित लक्षण दिखाई देते हैं.

  • तेज सांस चलना
  • सांस लेने में ताकत लगाना
  • सांस लेते हुए सीटी की आवाज आना
  • लगातार खांसी
  • खाने या निगलने में समस्या
  • थकान होना
  • होंठ या आंखों के आसपास की रंगत नीली या डार्क हो जाना, आदि

ये भी पढ़ें: 

शिशुओं में अस्थमा होने के कारण?
अस्थमा एंड एलर्जी फाउंडेशन ऑफ अमेरिका के मुताबिक, बच्चों में अस्थमा होने के सटीक कारणों के बारे में अभी तक पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है. लेकिन फैमिली में से किसी को अस्थमा होने या गर्भावस्था में मां के धूम्रपान करने से छोटे बच्चों में अस्थमा होने का खतरा बढ़ जाता है. वहीं, पांच साल या उससे कम उम्र के बच्चों में अस्थमा होने के पीछे रेस्पिरेटरी वायरस भी कारण हो सकता है.

वयस्कों से किस तरह अलग होता है छोटे बच्चों में अस्थमा?
छोटे बच्चों व शिशुओं की एयरवे (सांस लेने की नली) बड़े बच्चे या वयस्कों के मुकाबले काफी छोटी होती है. जिस कारण छोटी-सी परेशानी के कारण बच्चों को सांस लेने में बहुत गंभीर तकलीफ हो सकती है.

ये भी पढ़ें: 

बच्चों में अस्थमा के लक्षण कम कैसे करें?
बच्चों में अस्थमा के लक्षण कम करने के लिए आप निम्नलिखित तरीके अपना सकते हैं. जैसे-

  • ऐसे ट्रिगर्स की पहचान करें, जो बच्चों में अस्थमा की बीमारी गंभीर करते हों.
  • धूल-मिट्टी, पालतू जानवर, फूल के कण आदि से बच्चे को दूर रखें.
  • डॉक्टर द्वारा बताए गए अस्थमा मैनेजमेंट प्लान का पालन करें.
  • बच्चे के आसपास धूम्रपान ना करें.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *