Health News: मिट्टी के तवे पर रोटी पकाना है सबसे ज्यादा फायदेमंद, आज ही सुधार लें अपनी भूल
स्वास्थ्य

amazing health benefits of making roti or chapati on clay tawa know here important health tips samp | Health News: मिट्टी के तवे पर रोटी पकाना है सबसे ज्यादा फायदेमंद, आज ही सुधार लें अपनी भूल

समय के साथ हमारी आदतें भी बदल गई हैं. पहले भारत में मिट्टी के तवे पर रोटी बनाने का चलन था. लेकिन धीरे-धीरे मिट्टी के तवे की जगह आयरन, स्टील और नॉन-स्टिक तवों ने ले ली है. आपको जानकर हैरानी होगी कि इस नासमझ के कारण हम कई फायदों को खोते जा रहे हैं. क्योंकि मिट्टी के तवे पर रोटी बनाना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है.

मिट्टी का तवा क्यों है सबसे फायदेमंद? (mitti ke tawa ke fayde)
जब जीवनशैली से जुड़ी अपनी इस गलती के बारे में आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉ. अबरार मुल्तानी से बात की गई. तो उन्होंने बताया कि भेड़ चाल और समय बचाने के लिए हमने अपने स्वास्थ्य को ताक पर रख दिया है. उनके मुताबिक, एल्यूमिनियम 87 प्रतिशत, पीतल 7 प्रतिशत और कांसा 3 प्रतिशत खाने का पोषण नष्ट कर लेता है. लेकिन मिट्टी के बर्तन में खाने का 100 प्रतिशत पोषण सुरक्षित रहता है.

ये भी पढ़ें: Breakfast Tips: ब्रेकफास्ट में जरूर खाएं ये 2 चीजें, बढ़ेगी शारीरिक ताकत और बीमारी रहेंगी दूर

मिट्टी के तवे पर रोटी पकाने के फायदे (Clay Tawa Roti Benefits)
डॉ. अबरार मुल्तानी के मुताबिक, मिट्टी के तवे पर रोटी सेंकने से निम्नलिखित फायदे प्राप्त होते हैं.

  1. आजकल अधिकतर लोगों को पेट में गैस की शिकायत रहती है. लेकिन, मिट्टी के तवे पर रोटी पकाने से गैस की समस्या से राहत मिलती है.
  2. कब्ज से परेशान लोगों को मिट्टी के तवे पर बनी रोटी राहत पहुंचाती है.
  3. मिट्टी का तवा जल्दी गर्म नहीं होता है. इसलिए आपकी रोटी जलती नहीं है.
  4. मिट्टी में मौजूद पोषक तत्व रोटी में समा जाते हैं और गेहूं के आटे के गुण नष्ट नहीं होते हैं. जो कि आपको कई बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करते हैं.

ये भी पढ़ें: Health News: दूध, मीट समेत इन 8 चीजों को खाने का Best Time, वरना शरीर को घेर लेंगी बीमारी

मिट्टी पर रोटी सेंकते हुए इन बातों का रखें ध्यान

  • तेज आंच पर मिट्टी का तवा ना रखें. इससे तवा चटक सकता है.
  • मिट्टी का तवा साफ करने के लिए साफ कपड़े का इस्तेमाल करें. साबुन या पानी से तवा ना धोएं.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *