News18 हिंदी - Hindi News
स्वास्थ्य

हेल्दी रहने के लिए शरीर में कितना ब्लड रहना जरूरी? कमी होने पर दिखते हैं ये लक्षण

हाइलाइट्स

ब्लड डोनेट करने के​ तीन महीने बाद बॉडी वापस इतना ब्लड बना लेती है.
गर्भवती महिला में सामान्य की तुलना में 30-50 प्रतिशत अधिक ब्लड होता है.

How Much Blood Is Necessary To Stay Healthy: शरीर को स्वस्थ रखने और सभी ऑर्गन के फंक्शंस को सुचारू रूप से चलाने में ब्लड सहायक भूमिका निभाता है. ब्लड की सही मात्रा शरीर के लिए बहुत आवश्यक है. शरीर में ब्लड की मात्रा वजन, एज और जेंडर पर निर्भर करती है. ह्यूमन बॉडी में ब्लड की मात्रा बॉडी के वजन से लगभग 7 प्रतिशत के बराबर होती है. बॉडी वेट के हिसाब से शरीर में ब्लड की मात्रा का अनुमान लगाया जाता है. बच्चे और वयस्कों में ब्लड की आवश्यकता उनकी उम्र के अनुसार होती है. कहा जाता है कि ब्लड डोनेट करने पर कमजोरी आ सकती है या बॉडी में ब्लड की कमी हो जाती है, लेकिन ऐसा नहीं है. ब्लड डोनेट करने के​ तीन महीने बाद बॉडी वापस से इतना ब्लड बना लेती है, जिसे दोबारा डोनेट किया जा सकता है. चलिए जानते हैं बॉडी को स्वस्थ रखने के लिए कितने ब्लड की आवश्यकता होती है.



शिशु में ब्लड की मात्रा
हेल्थलाइन के अनुसार
जो बच्चे जन्म से ही सेहतमंद पैदा होते हैं, उनका ब्लड उनके बॉडी वेट के अनुसार होता है. छोटे बच्चे की बॉडी में उसके वजन के प्रति किलोग्राम लगभग 75 मिलीलीटर ब्लड होता है. 8 पाउंड (3.6 किलोग्राम) के बच्चे में लगभग 270 मिलीलीटर ब्लड होता है.

बच्चे में ब्लड की मात्रा
बच्चे का वेट शिशु से ज्यादा होता है इसलिए उसके ब्लड में भी अंतर होगा. 80 पाउंड (36 किलोग्राम) के बच्चे के शरीर में लगभग 2,650 मिलीलीटर ब्लड होना चाहिए. तभी बच्चा हेल्दी कैटेगरी में आएगा.

यह भी पढ़ें– अच्छे रोल मॉडल बनते हैं A ब्लड ग्रुप के व्यक्ति, जानें इनके बारे में सब कुछ

व्यस्क में ब्लड की मात्रा
व्यस्क की बॉडी को अधिक ब्लड की आवश्यकता होती है. 150 से 180 पाउंड (करीब 70 किलोग्राम) के व्यस्क में लगभग 4,500 से 5,700 मिलीलीटर ब्लड होना चाहिए.

गर्भवती महिला में ब्लड की मात्रा
गर्भवती महिला में सामान्य महिला की तुलना में 30 से 50 प्रतिशत अधिक मात्रा में ब्लड होता है. ये उनके बॉडी वेट के आधार पर मापा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: इन प्राकृतिक तरीकों से घटाएं हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज का खतरा होगा कम

ब्लड की कमी के लक्षण

  • हार्टबीट का कम होना
  • ब्लड प्रेशर का कम होना
  • जल्दी-जल्दी सांस लेना
  • कमजोरी
  • चक्कर आना

Tags: Blood, Blood Donation, Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.