पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों का चयन यह सुनिश्चित करने में मदद कर सकता है कि मां और बच्चे को सभी मैक्रो और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स मिलें.
स्वास्थ्य

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को रखना चाहिए खानपान का विशेष ख्याल, ये फूड्स जरूर खाएं

मां का दूध बच्चों के लिए पौष्टिकभरा होता है, जो बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए जरूरी है. इसमें वसा, चीनी, पानी और प्रोटीन का बेहतरीन संतुलन होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, जन्म से 6 महीने तक बच्चों को स्तनपान यानी ब्रेस्टफीडिंग जरूर करवाना चाहिए. स्तनपान न केवल बच्चे के लिए बल्कि मां के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है. स्तनपान करवाने से बच्चों में हृदय रोग और डायबिटीज सहित कई चिकित्सा स्थितियों के विकास का जोखिम कम होता है. यह तनाव को भी दूर कर सकता है और बच्चे से अधिक जुड़ाव महसूस करने में मदद कर सकता है. इसलिए मां के लिए यह आवश्यक है कि वह ब्रेस्ट मिल्क के उत्पादन में मदद के लिए पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें. इसके अलावा, डिलीवरी के बाद स्वस्थ खानपान से मानसिक और शारीरिक रूप से बेहतर महसूस करने में मदद मिल सकती है. यदि मां का आहार संपूर्ण पोषक तत्व प्रदान नहीं करता है, तो यह स्तन के दूध की गुणवत्ता और मां के स्वास्थ्य दोनों को प्रभावित कर सकता है.

यह अनुमान लगाया गया है कि स्तनपान के दौरान ऊर्जा की आवश्यकता करीब 500 कैलोरी बढ़ जाती है. myUpchar के अनुसार मां को प्रोटीन, विटामिन डी, विटामिन ए, विटामिन ई, विटामिन सी, बी 12, सेलेनियम और जिंक सहित विशिष्ट पोषक तत्वों की जरूरत होती है. यही कारण है कि विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व वाले भोजन मां और बच्चे के लिए महत्वपूर्ण होते हैं. इन पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों का चयन यह सुनिश्चित करने में मदद कर सकता है कि मां और बच्चे को सभी मैक्रो और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स मिलें.

दलियास्तनपान कराने वाली महिलाओं में दूध की गुणवत्ता बढ़ाने में दलिया फायदेमंद है. यह आयरन की कमी पूरी करता है, जिससे एनीमिया का जोखिम कम होता है.

अंडा

myUpchar के अनुसार, अंडा संपूर्ण प्रोटीन वाले कुछ खाद्य पदार्थों में से एक है. अंडे में विटामिन ए, विटामिन बी 12, विटामिन डी, विटामिन ई और फोलेट, सेलेनियम, कोलिन और कई अन्य खनिज होते हैं. अंडे की जर्दी विटामिन डी से समृद्ध होती है, जो नवजात शिशुओं के लिए महत्वपूर्ण है.

गाजर

नवजात शिशु के स्वस्थ विकास के लिए विटामिन ए सहायक है. गाजर में अल्फा और बीटा कैरोटीन होते हैं, जो स्तन के उतकों के स्वास्थ्य और स्तनपान को बढ़ावा देने में मदद करते हैं.

पालक

पालक और अन्य पत्तेदार सब्जियां स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए आवश्यक है. इसमें विटामिन ए होता है जो बच्चे के स्वस्थ विकास में सहायक है. साथ ही इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं.

मछली

गर्भवती महिला ही नहीं बल्कि स्तनपान कराने वाली मां के लिए भी मछली फायदेमंद है. साल्मन मछली प्रोटीन और विटामिन डी का अच्छा स्रोत है. इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो नर्वस सिस्टम के विकास के लिए महत्वपूर्ण है.

संतरा

स्तनपान के समय संतरे का रस पीना चाहिए. यह शरीर को हाइड्रेटेड रखने में मदद करता है. इसके अलावा यह विटामिन सी की आपूर्ति भी करता है.

बादाम

बादाम प्रोटीन, विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. यह मां के स्वास्थ्य और नवजात शिशु के लिए महत्वपूर्ण है. स्तनपान कराने वाली मां के लिए बादाम और काजू जैसे मेवे दूध बढ़ाने में सहायक होते हैं.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, स्तनपान के फायदे पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *