सेहत का खजाना है काला अखरोट, जान लेंगे इसके फायदे तो जरूर करेंगे सेवन – News18 हिंदी
स्वास्थ्य

सेहत का खजाना है काला अखरोट, जान लेंगे इसके फायदे तो जरूर करेंगे सेवन – News18 हिंदी

Benefits of Black Walnuts: सूखे मेवे (Dry Fruit) में काजू, बादाम, किशमिश के साथ ही अखरोट खाना भी सेहत के लिए बहुत हेल्दी माना गया है। ऊपर से सख्त, हल्के भूरे रंग और मानव मस्तिष्क की शेप में दिखने वाला अखरोट (Walnut) एक प्रकार का नट है, जो कई तरह की शारीरिक समस्याओं से दूर रखने में मदद करता है. इसमें सबसे ज्यादा ओमेगा-3 फैटी एसिड मौजूद होता है. इसके अलावा, अखरोट में ऊर्जा, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंड, पोटैशियम, प्रोटीन, मेलाटोनिन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस जैसे पोषक तत्व होते हैं. अखरोट (Akhrot) का इस्तेमाल कुकीज, केक, हलवा, मिठाई, एनर्जी बार, स्वीट डेजर्ट, स्मूदी आदि में कर सकते हैं. आपने भूरे रंग का अखरोट तो खूब खाया है, पर क्या आप जानते हैं कि काले रंग का भी अखरोट (Black Walnuts) होता है. जी हां, एंटीबैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट्स कम्पाउंड से भरपूर काला अखरोट सेहत को कई तरह से लाभ पहुंचाता है.

काले अखरोट में मौजूद पोषक तत्व

इंडियन स्पाइनल इंजरीज (वसंत कुंज, नई दिल्ली) की सीनियर डाइटिशियन कम एफएसटीएल हिमांशी शर्मा कहती हैं कि काले अखरोट में एंटीऑक्सीडेंट्स, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-फंगल प्रॉपर्टीज भरपूर होती हैं. इसके साथ ही यह प्रोटीन, फाइबर, मिनरल्स, विटामिंस का भी मुख्य स्रोत होता है.

यह भी पढ़ें: Benefits of Walnuts: सर्दियों में रोज खाएं 2 भीगे अखरोट, मिलेंगे ये बड़े फायदे

काले अखरोट खाने के फायदे-नुकसान

  • हिमांशी बताती हैं कि काले अखरोट को सीमित मात्रा में खाने से लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन या बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है. उच्च रक्तचाप की समस्या से परेशान लोगों को काला अखरोट खाना चाहिए.
  • यह इंफ्लेमेशन की समस्या को कम कर सकता है.
  • भूख अधिक लगती है, तो काला अखरोट खाएं, क्योंकि इसमें फाइबर भी मौजूद होता है. इससे वजन कंट्रोल रखने में मदद मिल सकती है.
  • इसमें मौजूद एंटी-फंगल, एंटीऑक्सीडेंट्स प्रॉपर्टीज रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बूस्ट करती हैं.
  • काला अखरोट कैंसर, हार्ट डिजीज, पीसीओडी, लिवर रोग आदि से भी बचाए रख सकता है.
  • हालांकि, काला अखरोट के फायदों के साथ ही कुछ नुकसान भी होते हैं, जैसे अधिक सेवन करने से एलर्जिक रिएक्शन हो सकती है. जरूरी नहीं कि सबको एक जैसी ही एलर्जी हो.
  • काले अखरोट में मौजूद टैनिन एंटीकोआगुलेंट या पेट के विकारों के लिए कुछ दवाओं के साथ हस्तक्षेप कर सकते हैं.
  • यदि आप काले अखरोट का सेवन करना चाहते हैं, तो बेहतर है कि किसी न्यूट्रिशनिस्ट, एक्सपर्ट की सलाह ले लें.

यह भी पढ़ें: हेल्दी और फिट रहने के लिए रोज खाएं ये पांच नट्स

अखरोट खाने के फायदे

यदि आप अखरोट का सेवन करते हैं, तो गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है. अखरोट में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट्स दिमाग की सेहत के लिए परफेक्ट होते हैं. याद्दाश्त और सोचने की क्षमता में सुधार करते हैं. बच्चों की मेमोरी पावर बूस्ट होती है. फोलेट, विटामिन बी 9 होने के कारण प्रेग्नेंट महिलाओं के शरीर में फॉलिक एसिड की कमी नहीं होने देता है. इसमें मौजूद हाई फाइबर और लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स डायबिटीज रोगियों के लिए भी लाभदायक हो सकता है. एंटीऑक्सीडेंट्स, पोटैशियम, ओमेगा-3 त्वचा और बालों को स्वस्थ रखते हैं. फाइबर होने के कारण अखरोट कब्ज दूर करता है, पाचन प्रणाली को दुरुस्त रखता है. जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, उनके लिए अखरोट बेहतर विकल्प है, इससे हृदय रोग होने का जोखिम कम होता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.