Hindi News - News18 हिंदी
स्वास्थ्य

सावन के महीने में क्यों नहीं खाया जाता है दूध-दही, यहां जानें

Avoid Eat Milk And Curd In Sawan: कई बार आपने लोगों को कहते सुना होगा कि सावन (Sawan) के महीने में दूध (Mikl), दही (Curd) और इनसे बनी चीजें नहीं खानी चाहिए. लेकिन अगर किसी से ये सवाल करो कि क्यों नहीं खानी चाहिए तो जवाब आसानी से मिलता नहीं है. आइये आपके इस सवाल का जवाब हम आपको देते हैं कि सावन के महीने में दूध, दही और इनसे बनी चीजें क्यों नहीं खानी चाहिए.

ये भी पढ़ें: दूध के साथ शहद मिलाकर पीने से शारीरिक कमजोरी होती है दूर, आज ही डाइट में करें शामिल

कीड़े मकोड़े हैं वजह

सावन के महीने में बारिश की वजह से जगह-जगह घास और तरह-तरह की हरे पेड़-पौधे अपने आप उगने लगते हैं. साथ ही इस मौसम में कई तरह के कीड़े-मकोड़े भी इन घास और पौधों में पनपने लगते हैं. इस घास-फूस को चारे के तौर पर गाय, भैंस और बकरी चरते रहते हैं, और चारे के साथ ये कीड़े-मकोड़े दूध देने वाले पशुओं के पेट में पहुंच सकते हैं. जहां से ये हानिकारक तत्व के तौर पर दूध में भी मिल सकते और दूध के सेवन के ज़रिये इनके आपके शरीर में पहुंचने का खतरा बना रहता है. इसीलिए सावन के महीने में दूध पीने के लिए मना किया जाता है. वहीं दूध से ही दही और पनीर जैसी कई चीजें तैयार की जाती हैं, जिसकी वजह से इनका सेवन न करने की सलाह भी सावन के महीने में दी जाती है.

पाचन तंत्र भी है वजह

बारिश के मौसम में अक्सर लोगों का का पाचन तंत्र कमज़ोर हो जाता है. जिसकी वजह से दूध और दही या फिर इनसे बनी चीजों का सेवन करने से कई बार अपच, गैस, पेट दर्द, उल्टी, दस्त और एसिडिटी जैसी पेट सम्बन्धी दिक्कतें होने लगती हैं. इसलिए सावन के महीने में दूध, दही और इनसे बनी चीजों का सेवन न करने की सलाह दी जाती है.

ये भी पढ़ें: बकरी का दूध हेल्थ और ब्यूटी दोनों के लिए फायदेमंद, जानें कैसे

इम्यून सिस्टम है वजह

सावन में बारिश का मौसम होता है और इसकी वजह से तमाम तरह के बैक्टीरिया वातावरण के साथ पानी में भी होते हैं. क्योंकि हर किसी के घर में वाटर प्यूरीफायर होना सम्भव नहीं है और ज्यादातर लोग टैप वाटर का इस्तेमाल करते हैं. इसलिए इस पानी के दूध में मिले होने की संभावना भी बनी रहती है. दूध के सेवन से या दूध से तैयार दही और पनीर जैसी चीजों के ज़रिये ये बैक्टीरिया आपके शरीर में पहुंचने का खतरा होता है. जिसकी वजह से इम्यून सिस्टम कमज़ोर हो सकता है और आपको  उल्टी, दस्त, पेट में दर्द, मरोड़ और ऐंठन जैसी दिक्कतों के साथ खांसी, ज़ुकाम और बुखार जैसी दिक्कतें भी हो सकती हैं. इसलिए भी सावन के महीने में दूध, दही और इनसे तैयार की गयी चीजों का सेवन करने के लिए मना किया जाता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *