वजन कम (Weight Lose) करने से लेकर कई अन्य बीमारियों के लिए भी गुड़ (Jaggery) काफी उपयोगी होता है. कोरोना काल में गुड़ का सेवन इम्यूनिटी पावर (Immunity Power) को स्ट्रॉन्ग बनाने के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है.
स्वास्थ्य

सर्दियों में क्यों पीनी चाहिए गुड़ की चाय, जानें इसके फायदे और बनाने का तरीका

सर्दियों (Winter) में अगर एनर्जी बूस्ट करने की बात आती है, तो गुड़ की चाय (Jaggery Tea) को बेहद शानदार ऑप्शन माना जाता है. खाने में गुड़ (Jaggery) का इस्तेमाल करना चीनी से कहीं ज्यादा अच्छा माना जाता है. वजन कम (Weight Lose) करने से लेकर कई अन्य बीमारियों के लिए भी गुड़ काफी उपयोगी होता है. कोरोना काल में गुड़ का सेवन इम्यूनिटी पावर (Immunity Power) को स्ट्रॉन्ग बनाने के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है. आइए आपको बताते हैं कि कैसे आप सर्दियों में बड़ी ही आसानी से घर पर गुड़ी का चाय बना सकते हैं और इसके क्या फायदे होते हैं.

सामग्री
गुड़ की चाय बनाने के लिए 3 चम्मच बारीक गुड़ और 2 चम्मच चाय की पत्ती होनी चाहिए. 2 इलायची और 1 चम्मच सौंफ होना चाहिए. एक कप पानी और दो कप दूध की जरूरत भी होती है. आधा चम्मच कालीमिर्च पाउडर और अदरक की जरूरत भी इसमें होती है.

इसे भी पढ़ेंः Diwali 2020: त्योहारी सीजन में डायबिटीज से बचने के लिए अपनाएं ये 7 आसान टिप्सविधि

पैन में एक कप पानी गर्म करें और उसमें इलायची, कालीमिर्च, अदरक, सौंफ जैसी चीजें मिलाकर उबालें. उबलने लगे तब इसमें दूध मिलाकर फिर से उबालें. इसमें गुड़ डालें और अच्छी तरह मिलाएं ताकि गुड़ इसमें घुल जाए. अब आपकी गुड़ की चाय तैयार है. याद रखें कि गुड़ डालने के बाद ज्यादा देर तक उबालने से चाय फट सकती है इसलिए इसे कम उबालें. इसके कुछ फायदों के बारे में यहां बताया गया है.

पेट कम होता है
चीनी खाने के आदी लोगों को सर्दियों में गुड़ की चाय पीनी चाहिए. इससे पेट की चर्बी खत्म होती है और इंसान स्वस्थ भी रहता है. जिन्हें चीनी खाना अच्छा लगता है, वे गुड़ खा सकते हैं.

पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है

गुड़ की चाय पीने से पाचन तंत्र में सुधार होता है और सीने में जलन नहीं होती है. गुड़ में बहुत कम कृत्रिम स्वीटनर होते हैं. चीनी की तुलना में इसमें बहुत सारे विटामिन और खनिज होते हैं जो स्वास्थ्य का ख्याल रखते हैं. इस लिहाज से सर्दियों में गुड़ की चाय फायदेमंद होती है.

माइग्रेन से राहत
ऐसा माना जाता है कि अगर आपको माइग्रेन या सिरदर्द है, तो आपको गाय के दूध में गुड़ की चाय बनाकर पीनी चाहिए. इससे आराम मिलता है.

इसे भी पढ़ेंः Diwali 2020: दिवाली पर अपनाएं ये वास्तु टिप्स, मां लक्ष्मी की कृपा से होगी धन की वर्षा

लाल रक्त कोशिकाओं में वृद्धि
अगर खून की कमी है, तो गुड़ खाना या इसकी चाय पीना फायदेमंद माना जाता है. गुड़ में बहुत अधिक लोहा होता है और शरीर को लोहे की आवश्यकता होती है क्योंकि यह शरीर के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है.

ज्यादा गुड़ से नुकसान भी होता है
ज्यादा गुड़ का सेवन भी हानिकारक है. सीमित मात्रा में गुड़ का उपयोग करना ही अच्छा होता है. इससे न केवल वजन बढ़ता है बल्कि नाक से खून आने की समस्या भी हो सकती है. इसके अलावा पाचन तंत्र पर भी कुछ हद तक असर पड़ सकता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *