समर में सिर्फ डाइट प्लान ही नहीं, ड्राई फ्रूट्स खाने का तरीका भी बदलें, जानिए कैसे
स्वास्थ्य

समर में सिर्फ डाइट प्लान ही नहीं, ड्राई फ्रूट्स खाने का तरीका भी बदलें, जानिए कैसे

Dry Fruits consumption in Summer: खुद को बीमारियों से बचाने के लिए हम कई तरीके आज़माते हैं, जिनमें एक्सरसाइज, योग, हेल्दी डाइट लेने जैसी बातें शामिल हैं. बात जब डाइट की आती है, तो ड्राई फ्रूट्स पर अलग ज़ोर होता है. बच्चे हो या बुज़ुर्ग घर के सदस्यों की रूटीन में मेवे ज़रूर शामिल किए जाते हैं. सर्दियों में ड्राई फ्रूट्स के लड्डू, घी में भूनकर और खाने की अन्य चीजों में मिलाकर खाया जाता है. लेकिन गर्मी के मौसम में मेवे खाने के तरीके बदल जाते हैं.

यूं तो साल भर ड्राई फ्रूट्स खाना फायदेमंद होता है. इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है, जिससे डाइजेशन ठीक रहता है. यह हड्डियों को मज़बूत करने, याद्दाश्त तेज करने के अलावा डायबिटीज के मरीजों के लिए भी हेल्दी माना जाता है. मेवे में मौजूद नेचुरल शुगर से शरीर में ग्लूकोज़ मेंटेन रहता है. जिससे मीठा खाने की तलब नहीं होती और ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है.

ये भी पढ़ें : क्या है सैचुरेटेड फैट? दिल के लिए कैसे है नुकसानदायक, फूड्स जिनमें होता है ये सबसे अधिक

सभी के लिए फायदेमंद है ड्राई फ्रूट्स – अगर डॉक्टर ने किसी परिस्थितिवश मना किया हो, तो बात और है. इसके अलावा सेहतमंद रहने के लिए सभी को ड्राई फ्रूट्स खाना चाहिए. हर सुबह खाली पेट मेवे खाने से मेटाबॉलिज़्म ठीक रहता है. शरीर ऊर्जावान महसूस करता है.ड्राई फ्रूट्स इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करता है. इसे खाने से हड्डियां भी मज़बूत रहती हैं.

बढ़ते टेम्परेचर में ऐसे खाएं मेवे
आयुर्वेद में हर भोजन को खाने से जुड़े कुछ नियम तय किए गए हैं. आयुर्देव एक्सपर्ट डॉ. दीक्षा भावसार सवालिया ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की गई जानकारी में बताया कि ड्राई फ्रूट्स को पचाने में पेट को थोड़ी मेहनत करनी पड़ती है. ऐसा इसलिए क्योंकि इनमें कई तरह के फाइबर, गुड फैट और प्रोटीन पाए जाते हैं.

ये भी पढ़े : मिल्क प्रोडक्ट्स में ज्यादा फैट होने से बच्चों की सेहत पर नहीं पड़ता फर्क – स्टडी

अगर ड्राई फ्रूट्स को रातभर भिगो दिया जाए, तो इसे खाने के बाद हमारा शरीर आसानी से उनके गुणों को अब्सॉर्ब कर लेता है. गर्मी के मौसम में ड्राई फ्रूट्स खाने के कुछ ज़रूरी सावधानियां हैं, जो इस प्रकार हैं.
– गर्मी के मौसम में रात भर पानी में भिगोए मेवे ही खाएं.
– भीगे हुए मेवे को अगली सुबह खाली पेट खाने की कोशिश करें.
– दोपहर या शाम की हल्की भूख में भी इसे खाया जा सकता है.
– एक साथ अधिक मेवे खाने से बचें, डाइजेशन बिगड़ सकता है.
– ज़्यादा मेवे खाने से वजन बढ़ता है, क्योंकि इसमें 80% फैट होता है.
– जिन लोगों को पाचन से जुड़ी परेशानी, एसिडिटी, डायरिया हो, वे ड्राई फ्रूट्स न खाएं.
– इसके अलावा किसी हेल्थ कंडीशन में अगर डॉक्टर ने मन किया है, तो मेवे लेने से बचें.

Tags: Fitness, Health, Health tips, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.