लो कार्ब डाइट है आपकी जरूरत तो आजमाएं भोजन के ये विकल्प
स्वास्थ्य

लो कार्ब डाइट है आपकी जरूरत तो आजमाएं भोजन के ये विकल्प | health – News in Hindi

किसी भी आहार (Diet) को शुरू करने के लिए पहला मूल है कार्ब्स पर कम होना. कार्ब्स यानी कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate). कार्बोहाइड्रेट तीन आवश्यक पोषक तत्वों (Nutrients) में से एक है जो विभिन्न खाद्य पदार्थों में पाया जाता है. शरीर के लिए कार्बोहाइड्रेट आवश्यक है लेकिन सही तरीके से सेवन किया जाना जरूरी है. ऐसा इसलिए है क्योंकि कार्बोहाइड्रेट शरीर में वसा (Fat) की मात्रा को बढ़ाते हैं. myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट के सेवन से शरीर में कैलोरी (Calorie) की मात्रा बढ़ सकती है और इसके कारण मोटापा हो सकता है, जो स्थायी रूप से अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो उन्हें अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए, जिनमें कार्ब्स कम हों

वजन कम करने का लक्ष्य लेकर चलने वालों को अपने आहार से कार्ब्स में कटौती करना इंसुलिन हार्मोन के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है. इंसुलिन शरीर को अधिक वसा को संग्रहीत करने के लिए संकेत देता है और इसके परिणामस्वरूप वजन बढ़ जाता है. प्रभावी तरीके से वजन घटाने के लिए बिना कार्ब्स या कम कार्ब्स का आहार लें. यहां ऐसे कुछ आहार के बारे में बता रहे हैं जिनमें बहुत कम कार्बोहाइड्रेट होता है और जो स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छे हैं.

चिकन और मछलीअगर कम कार्ब आहार की तलाश में हैं तो चिकन और मछली बहुत अच्छे विकल्प हैं. myUpchar से जुड़ीं डॉ. नेहा सूर्यवंशी का कहना है कि चिकन और मछली के सेवन से उचित प्रोटीन मिलता है और इसमें कार्बोहाइड्रेट बहुत कम होता है. इसका सेवन उबाल कर, सेक कर या फिर ग्रिल्ड करके करें.

डेयरी उत्पाद
कम वसा वाले दूध का सेवन करने से उचित मात्रा में प्रोटीन मिलता है और इसमें कार्बोहाइड्रेट बहुत कम मात्रा में मिलता है. वहीं दही का इस्तेमाल भी नमकीन लस्सी, छाछ, सादा दही के रूप में कर सकते हैं. पनीर भी इस सूची में शामिल है. इसका सेवन बहुत कम तेल में पकी हुई सब्जी के रूप में, बिना तेल में पनीर टिक्का, दही और जरूरी मसालों के साथ कर सकते हैं.

सब्जियां

अपने फ्रिज को खीरे, ब्रोकली, फूलगोभी जैसी सब्जियों से भर लें, क्योंकि इनमें कार्ब्स कम हैं. आलू कार्बोहाइड्रेट से समृद्ध है और इसलिए अगर कम कार्ब वाले आहार चुन रहे हैं तो इससे बचें.

फल
नारियल, पपीता, सेब, आड़ू और स्ट्रॉबेरी कुछ ऐसे फल हैं, जिनमें कार्ब्स कम हैं. हालांकि यह मानना गलत है कि फलों में कम चीनी होने का मतलब है कम कार्ब्स. केला और चीकू दो ऐसे फल हैं जो कार्ब्स में उच्च होते हैं और इनसे बचना चाहिए.

नट्स और ड्रायफ्रूट्स
अगर डाइट पर हैं और कार्ब की मात्रा कम होने के कारण अक्सर भूख लगती है तो नट्स और ड्रायफ्रूट्स ले सकते हैं. रोजाना एक मुट्ठी नट्स और ड्रायफ्रूट्स खाना अच्छी बात है. ये सूक्ष्म पोषक तत्वों, वसा, फाइबर और प्रोटीन में उच्च हैं. यह भूख को शांत करते हैं और लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस कराते हैं.

बीज
चिया के बीज, कद्दू के बीज, अलसी, सूरजमुखी के बीज बड़े फायदेमंद साबित हो सकते हैं. बीजों में कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सेलेनियम और मैंगनीज के अतिरिक्त लाभों के साथ विटामिन ए, बी, सी और ई के अलावा आवश्यक फैटी एसिड होते हैं.

ये भी पढ़ें – लाइफस्टाइल में ये बदलाव कर पाएं डिप्रेशन से छुटकारा, जानिए थेरेपी…

जड़ी-बूटियां और मसाले
ऐसी कई जड़ी-बूटियां और मसाले हैं जो एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर हैं. इलायची, मिर्च, नमक, काली मिर्च, हल्दी, दालचीनी, सरसों के बीज और मसालों का इस्तेमाल कर सकते हैं. कार्ब सामग्री में कम होने पर भी जड़ी बूटियों और मसाले खाद्य पदार्थों का स्वाद बढ़ाने में काम आते हैं.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, मोटापा और वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *