अगर आपको पेट में भारीपन महसूस हो रहा है तो आप मूली के रस में नमक मिलाकर पिएं.
स्वास्थ्य

ये हैं सर्दियों में मूली खाने के 5 जबरदस्त फायदे, आज से ही शुरू कर दें खाना

अगर आपको पेट में भारीपन महसूस हो रहा है तो आप मूली के रस में नमक मिलाकर पिएं.

पौष्टिक तत्वों से भरपूर मूली (Radish) किडनी (Kidney) को स्वस्थ रखने में मदद करती है. यह हमारे शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने में भी मदद करती है और इसलिए इसे नैचुरल क्लींजर भी कहा जाता है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 23, 2020, 8:57 AM IST

सर्दियों में मूली (Radish) हर किसी की किचन का अहम हिस्सा होती है. किसी को मूली के पराठे पसंद होते हैं, तो कोई मूली की सब्जी खाना पसंद करता है. कुछ लोग तो सलाद (Salad) में कच्ची मूली खा लेते हैं. बहुत सारे लोगों को मूली का अचार भी बेहद पसंद होता है. वहीं ऐसे लोग भी हैं जो खाना तो दूर इसे देखना तक पसंद नहीं करते. अगर आप भी उन्हीं लोगों में से हैं तो इससे होने वाले फायदे जान लें. एक बार इसे खाने के फायदे जान लेंगे तो आप खुद को इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करेंगे.

किडनी को रखे स्वस्थ
पौष्टिक तत्वों से भरपूर मूली हमारी किडनी को स्वस्थ रखने में मदद करती है. यह हमारे शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने में भी मदद करती है और इसलिए इसे नेचुरल क्लींजर भी कहा जाता है. यह हमारी आंतों को स्वस्थ रखने में मदद करती है. इसमें अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता जो कब्ज के मरीजों के लिए रामबाण है.

ये भी पढ़ें – कोरोना काल में बच्‍चों से जुड़ी परेशानियों पर यूनिसेफ ने दिए 5 सुझावभूख बढ़ेगी

अगर किसी को भूख न लगने की परेशानी है तो इसके लिए आप मूली के रस में अदकर का रस मिलाकर पिएं. ऐसा करने से आपकी भूख बढ़ेगी और आपको अगर पेट संबंधित कोई रोग है तो वो भी दूर होगा.

लिवर की परेशानी होगी दूर
अगर आपको पेट में भारीपन महसूस हो रहा है तो आप मूली के रस में नमक मिलाकर पिएं. इससे आपको आराम मिलेगा. जिन लोगों को लिवर संबंधित कोई परेशानी है तो उन्हें अपनी डाइट में मूली को जरूर शामिल करना चाहिए. यह हमारे लीवर को स्वस्थ रखता है.

हाई बीपी में फायदेमंद

हाई बीपी के लोगों के लिए भी मूली बहुत फायदेमंद है. एंटी हाइपरटेंसिव गुणों से भरपूर मूली उच्च रक्तचाप को कंट्रोल करने में मदद करती है. इसके अलावा इसमें पर्याप्त मात्रा में पोटेशियम होता है, जो हमारे शरीर में सोडियम-पोटेशियम के अनुपात को बैलेंस बनाए रखता है जिससे ब्लड प्रेशर मेंटेन रहता है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दी, जुकाम और खांसी से बचने के लिए ये हैं कुछ आसान टिप्स, जरूर करें इनका सेवन

पीलिया रोग में मददगार
पीलिया पेशेंट्स के लिए यह रामबाण का काम करती है. इन लोगों को अपनी डाइट में ताजी मूली को शामिल करना चाहिए. रोजाना सुबह एक कच्ची मूली खाने से पीलिया रोग सही हो जाता है. मधुमेह के मरीजों के लिए भी यह बेहद फायदेमंद है. इसमें मौजूद तत्व इंसुलिन को कंट्रोल करने का काम करते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *