मानसून में सौंफ के प्रयोग से सुधरता है डाइजेस्टिव सिस्टम, ये फूड भी देंगे राहत
स्वास्थ्य

मानसून में सौंफ के प्रयोग से सुधरता है डाइजेस्टिव सिस्टम, ये फूड भी देंगे राहत

हाइलाइट्स

खाने के बाद सौंफ का सेवन डाइजेस्टिव सिस्टम को सुधारता है.
मानसून के दौरान डाइजेस्टिव सिस्टम कमजोर हो जाता है.

Food For Digestive System: बारिश शुरू हुई नहीं कि चटपटे पकोड़े और भजिए खाने की शुरुआत हो जाती है. ऐसे में डाइजेस्टिव सिस्टम की चिंता कौन करता है. मानसून में भले ही चिपचिपी उमस भरी गर्मी से राहत मिल जाती है लेकिन बॉडी का डाइजेस्टिव सिस्टम वीक हो जाता है. डाइजेस्टिव सिस्टम बॉडी की गंदगी को बाहर निकालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. डाइजेस्टिव सिस्टम का ठीक से काम न करना पेट में सूजन, ऐंठन और कब्ज जैसी समस्याओं को जन्म देता है. इन समस्याओं को दूर करने में सौंफ काफी कारगर साबित होती है. हर खाने के बाद यदि सौंफ का सेवन किया जाए तो डाइजेस्टिव सिस्टम में सुधार आता है. सौंफ के अलावा कई ऐसे फूड्स भी हैं जो डाइजेस्टिव सिस्टम को दुरुस्त रखने में मदद करते हैं. जानते हैं उन फूड्स के बारे में जो ​डाइजेस्टिव सिस्टम को सुधारते हैं.

योगर्ट
योगर्ट दूध से बनता है जो लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया द्वारा फर्मेंट होता है. हेल्थलाइन के अनुसार योगर्ट में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया होते हैं जो बॉडी के डाइजेस्टिव सिस्टम को सुधारने में मदद करते हैं. प्रोबायोटिक से ब्लोटिंग, सूजन और कॉस्टीपेशन में राहत मिलती है. इसके नियमित सेवन से गट हेल्थ भी अच्छी रहती है.

यह भी पढ़ें: डाइजेशन में हो रही है दिक्‍कत तो पाचन शक्ति इस तरह बढ़ाएं, अपनाएं ये 7 तरीके

सेब
सेब पेक्टिन का रिच सोर्स है जिसमें सॉल्यूबल फाइबर होते हैं. एप्पल को आमतौर पर कॉस्टीपेशन की समस्या होने पर डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है. एप्पल का सेवन करने से डाइजेस्टिव सिस्टम सही काम करता है और सूजन व इंफेक्शन की समस्या से भी निजात दिलाता है.

से भी पढ़ें: Acidity की वजह सुबह की गई ये गलती तो नहीं? आज ही सुधार लें ये आदत

पपीता
पपीता जिसमें पपैन नामक डाइजेस्टिव एंजाइम होता है, जो खाने को डाइजेस्ट करने में मदद करता है. यह बॉडी में मौजूद प्रोटीन फाइबर को तोड़ने में मदद करके डाइजेस्टिव प्रोसेसे में सुधार लाता है.

अदरक
अदरक का प्रयोग कई बीमारियों में मेडिसिन के रूप में किया जाता है. इसका सेवन डाइजेस्टिव सिस्टम को सुधारने और उल्टी को रोकने के लिए काफी कारगर माना गया है. अदरक हार्ट बर्न, चक्कर और पेट दर्द में मेडिसिन का काम करती है.

Tags: Health, Health problems, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.