भीगी हुई किशमिश या ताजे अंगूर? एक्सपर्ट से जानें हेल्थ के लिए क्या है बेस्ट
स्वास्थ्य

भीगी हुई किशमिश या ताजे अंगूर? एक्सपर्ट से जानें हेल्थ के लिए क्या है बेस्ट

भीगे हुए ड्राई फ्रूट्स, जैसे बादाम, अखरोट और किशमिश हेल्थ को कई फायदे पहुंचाने के लिए जाने जाते हैं और एक्सपर्ट्स अक्सर दिन की शुरुआत मुट्ठी भर नट्स से करने की सलाह देते हैं. किशमिश या सूखे अंगूर, विशेष रूप से डाइजेशन में मदद करने, आयरन के लेवल को बढ़ाने और हड्डियों को मजबूत रखने जैसे कई स्वास्थ्य लाभों से भरे होते हैं. न्यूट्रीशनिस्ट भुवन रस्तोगी (nutritionist Bhuvan Rastogi) के अनुसार, किशमिश हेल्थ के लिए फायदेमंद (raisins Benefits) होती है और ये अन्य ड्राई फ्रूट जैसे खुबानी और प्लम की तुलना में ज्यादा एंटीऑक्सिडेंट बनाए रखती हैं. उन्होंने कहा,”ये आयरन में मॉडरेट और पोटेशियम में हाई है. ड्राई फ्रूट सामान्य रूप से बदले और सख्त मौसम में न्यूट्रिएंट्स का एक सुविधाजनक सोर्स होते हैं, ”

हालांकि, कई लोगों का मानना ​​है कि भीगी हुई किशमिश (Soaked raisins) ‘सुपरफूड’ होती है और ताजे अंगूरों (Fresh Grapes) की तुलना में इसकी न्यूट्रीशन वैल्यू ज्यादा होती है. आमतौर पर माने जाने वाले इस मिथक को दूर  करने के लिए न्यूट्रीशनिस्ट ने इंस्टाग्राम का सहारा लिया.

उनका कहना है. “किशमिश को रि-हाइड्रेट करने का कोई बड़ा फायदा नहीं है. मुझे इस टॉपिक पर कोई सही रिसर्च नहीं मिली. सभी आर्टिकल किशमिश के फायदों के बारे में बात करते हैं या किशमिश के पानी के फायदों के बारे में, भिगोने से उसमें क्या अतिरिक्त लाभ होता है इसके बारे में नहीं. अगर ऐसे कुछ है, तो ये न्यूट्रीएंट्स के सामान्य बेहतर अब्जॉर्प्शन (नट्स को भिगोने के समान) से ज्यादा कुछ नहीं है,.”

यह भी पढ़ें-
आलिया भट्ट की योगा ट्रेनर ने बताईं 3 ब्रीदिंग टेकनीक, ये गर्मी में आपको रखेंगी कूल

क्या है सेहत के लिए बेस्ट
न्यूट्रीशनिस्ट भुवन रस्तोगी ने समझाया कि “सेहत के लिए किशमिश अंगूर से कम ही फायदेमंद हैं, क्योंकि जब अंगूर डिहाईड्रेट होते हैं, तो वे विटामिन खो देते हैं”. किशमिश और अंगूर को लेकर यूएसडीए (यूनाईटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर) न्यूट्रीशन डेटाबेस की तुलना करते हुए, उन्होंने देखा, “अंगूर में 15 गुना अधिक विटामिन k, छह गुना अधिक विटामिन ई और सी, और किशमिश की तुलना में दो गुना अधिक विटामिन बी 1 और बी 2 है.”

यह भी पढ़ें-
मौत की वजह बन सकता है मोटापे के प्रति आपका लापरवाह नजरिया, पढ़ें विशेष रिपोर्ट

कब क्या लेना चाहिए
न्यूट्रीशनिस्ट के अनुसार, ये बताता है कि अंगूर से बढ़कर किशमिश या भीगी हुई किशमिश मानने का कोई मतलब नहीं है. उन्होंने कहा,  “तो…जब अंगूर उपलब्ध न हों तो किशमिश लें, लेकिन जब ताज़े अंगूर का मौसम हो, तो हमेशा उन्हें चुनें. किशमिश को कुछ अधिक चार्ज किए गए सुपरफूड के रूप में न मानें, बल्कि सिर्फ एक और सूखे मेवे के रूप में मानें, जिसे ताजा अंगूर के उपलब्ध नहीं होने पर लिया जाना चाहिए,”

Tags: Food, Health, Health News, Lifestyle



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.