ब्रिस्क वॉक से घटाएं वजन, दिल से लेकर कई अन्य रोगों के होने का जोखिम भी होगा कम
स्वास्थ्य

ब्रिस्क वॉक से घटाएं वजन, दिल से लेकर कई अन्य रोगों के होने का जोखिम भी होगा कम

स्वस्थ रहने के लिए शारीरिक रूप से एक्टिव रहना बहुत जरूरी है. यदि आप जिम जाकर वर्कआउट नहीं कर पाते हैं, तो कोई बात नहीं आप चलकर भी खुद को हेल्दी रख सकते हैं. चलना-फिरना हल्के एक्सरसाइज में आता है, लेकिन इससे संपूर्ण स्वास्थ्य को लाभ होता है. अक्सर एक्सपर्ट कहते हैं प्रतिदिन कम से कम 30 मिटन एक्सरसाइज करें या फिर वॉकिंग, जॉगिंग या रनिंग करें, इससे शरीर और दिमाग दोनों ही चुस्त-दुरुस्त रहेगा. चलने-फिरने के कई तरीके होते हैं, बहुत तेजी से दौड़ना, धीरे-धीरे टहलना या फिर ना तो बहुत तेजी से दौड़ना और ना ही बहुत धीरे चलना. चलने के इस तरीके को ब्रिस्क वॉक (Brisk walk) कहते हैं. ब्रिस्क वॉक करने से याद्दाश्त क्षमता में सुधार हो सकता है. मेंटल हेल्थ अच्छी बनी रहती है. इसके साथ ही ब्रिस्क वॉकिंग के कई अन्य सेहत लाभ होते हैं, जानें यहां.

इसे भी पढ़ें: कभी उल्टा चलकर भी देखें, शारीरिक और मानसिक रूप से होंगे सेहत को जबरदस्त फायदे

ब्रिस्क वॉक करने के सेहत लाभ

वजन होता है कम
हेल्थलाइन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिस्क वॉकिंग एक कार्डियो एक्सरसाइज है, जिसे रेगलुर करने से कई तरह से शारीरिक और मानसिक फायदे प्राप्त होते हैं. पैदल चलने से अधिक कैलोरी बर्न करके ज्यादा वजन कम करने में मदद मिलती है. लीन मसल मास को बढ़ाता है. मूड बेहतर करता है, जिससे आपके अंदर और अधिक चलने की इच्छा उत्पन्न होती है. इस तरह से आप अधिक वजन घटा पाने के अपने लक्ष्यों में सफल होते हैं.

कार्डियोवैस्कुलर सेहत में सुधार
कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य में सुधार होता है, जब आप प्रतिदिन ब्रिस्क वॉक करते हैं. एक अध्ययन के अनुसार, सप्ताह में 5 दिन पैदल चलने से हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है. नियमित रूप से कार्डियो एक्सरसाइज करने से रक्त में एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद मिलती है.

ब्लड प्रेशर रहे नॉर्मल
कार्डियो एक्सरसाइज जैसे ब्रिस्क वॉक करने से हाई ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है. इससे आपकी हार्ट की सेहत दुरुस्त रहती है. स्ट्रोक, हार्ट अटैक, हार्ट फेलियर आदि का रिस्क कम हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: रोजाना आधे घंटे पैदल चलने के कितने फायदे?

ब्लड शुगर लेवल हो कम
नियमित रूप से ब्रिस्क वॉक करने से डायबिटीज रोगियों को भी बेहद लाभ हो सकता है. यह एक्सरसाइज ब्लड शुगर लेवल को हाई नहीं होने देती है, इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ा सकती है. इसका मतलब ये है कि आपकी मांसपेशियों की कोशिकाएं एक्सरसाइज करने से पहले और बाद में, ऊर्जा के लिए ग्लूकोज लेने के लिए इंसुलिन का बेहतर उपयोग करने में सक्षम होती हैं.

मानसिक सेहत में होता है सुधार
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है, जब आप प्रतिदिन ब्रिस्क वॉकिंग करते हैं. शोध से यह भी पता चला है कि इस कार्डियो एक्सरसाइज को करने से आत्म-सम्मान बढ़ता है, नींद में सुधार होता है, मस्तिष्क शक्ति का निर्माण होता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.