News18 हिंदी - Hindi News
स्वास्थ्य

ब्यूटी स्लीप और मैट्रेस के बीच क्या है कनेक्शन? अच्छी नींद, स्वस्थ स्किन के लिए कैसे करें सही गद्दे का चुनाव

हाइलाइट्स

ब्यूटी स्लीप यानी 7-8 घंटे की नींद लेकर त्वचा को स्वस्थ और तरोताजा बनाए रखना.
डस्ट-रेसिस्टेंट मैट्रेस खरीदें ताकि धूल के कण के कारण स्किन एलर्जी ना हो.

दिन भर काम करके ना सिर्फ आपका शरीर और दिमाग थकता है, बल्कि चेहरा भी डल नजर आने लगता है. ऐसे में सुकून भरी नींद लेने से न सिर्फ आप ऊर्जा से भर उठते हैं, बल्कि चेहरा भी दोबारा से खिल उठता है. चाहते हैं आपका चेहरा डल, बेजना और मुर्झाया हुआ सा सोकर उठने के बाद नज़र ना आए, तो आप लीजिए ब्यूटी स्लीप. जब सारे दिन की दौड़भाग के बाद आप रात में अच्छी नींद लेते हैं, तो चेहरे पर भी फर्क नज़र आता है. ब्यूटी को बेहतर बनाए रखने के लिए एक्सरसाइज, हेल्दी डाइट के साथ ही हर दिन पर्याप्त सोना भी ज़रूरी है. इसके साथ ही आपकी नींद को बेहतर बनाने में आपके बेड पर लगा मैट्रेस भी मदद करता है. मैट्रेस या गद्दा अगर सही नहीं हुआ, तो रातभर नींद में खलल पड़ती रहेगी. साथ ही कमर, पीठ दर्द, अकड़न से भी परेशान हो सकते हैं. आइए जानते हैं क्या है ब्यूटी स्लीप, मैट्रेस और ब्यूटी स्लीप के बीच का कनेक्शन और सही मैट्रेस खरीदने के लिए किन बातों का रखें ध्यान.

इसे भी पढ़ें: क्या है ब्यूटी स्लीप? स्वस्थ त्वचा और बालों के लिए क्यों है जरूरी, एक्सपर्ट से जानें

क्या है ब्यूटी स्लीप?

इंडियनएक्सप्रेस डॉट कॉम में छपी एक खबर के अनुसार, ब्यूटी नैप का मतलब होता है त्वचा और शरीर को स्वस्थ और तरोताजा महसूस करने के लिए पर्याप्त मात्रा में आराम पहुंचाना. ब्यूटी स्लीप के लिए विशेषज्ञ रात में कम से कम 6-7 घंटे की नींद लेने की सलाह देते हैं. भरपूर नींद लेने से स्किन की हेल्थ अच्छी बनी रहती है. कोशिकाओं का पुनर्विकास होता है, जिससे त्वचा की सेहत बरकरार रहती है. पर्याप्त आराम ना लेने से त्वचा पर इसका निगेटिव असर साफ नज़र आने लगता है. कम सोने से ना सिर्फ सेहत संबंधित समस्याएं हो सकती हैं, बल्कि त्वचा पर भी कई तरह की समस्याएं जैसे सुस्ती, काले घेरे, मुंहासे, समय से पहले बूढ़ा होना आदि होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं.

आप चाहते हैं कि त्वचा से संबंधित ये समस्याएं आपको कम उम्र में ही प्रभावित ना करें, तो आप ब्यूटी स्लीप का सहारा ले सकते हैं. जब भी मौका मिले दिन में झपकी जरूर लें. वीकेंड को भी सिर्फ घूमने-फिरने में ना गंवाएं, बल्कि पिछले 5 दिनों में आपने जिन भी कारणों से कम नींद ली है, उसे वीकेंड पर सोकर पूरा करें.

इसे भी पढ़ें: रात में गहरी नींद सोने के लिए करें ये 5 उपाय, सुबह मूड रहेगा फ्रेश

ब्यूटी स्लीप के लिए सही मैट्रेस कितना ज़रूरी?

एक व्यक्ति सारा दिन काम करने के लिए कुर्सी पर एक ही पोस्चर में बैठा रहता है या फिर खड़े रहकर काम करता रहता है. लोग स्पाइन, कमर, पीठ की ओर ध्यान नहीं देते हैं. सिर्फ रात के समय ही जब आप सोते हैं, तो आपकी रीढ़ की हड्डी आराम की अवस्था में जाती है. लेकिन, इसके लिए भी बेहद ज़रूरी मैट्रेस अच्छी क्वालिटी का होना, ताकि स्पाइन को बेहतर सपोर्ट मिल सके. सोने से ना सिर्फ इम्यूनिटी डेवलप होती है, बल्कि मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट होता है. क्रोनिक डिजीज से बचाव होता है. साथ ही जब आप एक बेहतर मैट्रेस का चुनाव करते हैं, तो नींद भी डिस्टर्ब नहीं होती है, जिसका पॉजिटिव असर आपकी त्वचा पर भी नज़र आती है.

सही मैट्रेस का यूं करें चुनाव

ब्यूटी स्लीप के लिए सही मैट्रेस का चुनाव करें. बेशक, थोड़ा महंगा हो, लेकिन आपकी सेहत, नींद से बढ़कर नहीं. क्वालिटी, अधिक दिनों तक टिकने वाला और स्मार्ट टेक्नोलॉजी के तहत डिजाइन किया हुआ मैट्रेस खरीदें. इससे आपको रात में सोने में रिलैक्स महसूस होगा. स्पाइन का पोस्चर सही बना रहेगा, किसी भी तरह की दर्द की शिकायत नहीं होगी. त्वचा के लिए भी फ्रेंडली और हेल्दी होना चाहिए मैट्रेस, तभी आप स्किन की समस्याओं से बचे रहेंगे. हाइजीनिक, डस्ट-रेसिस्टेंट मैट्रेस खरीदें. स्वच्छ, धूल प्रतिरोधी गद्दे पर सोने से सांस के जरिए धूल के कण शरीर में नहीं जाते हैं. आप किसी भी तरह की स्किन एलर्जी से बचे रहते हैं. इसके अलावा, एर्गोनोमिक गद्दे खरीदें. ऐसा गद्दा आपके शरीर के हर हिस्से को सही तरीके से सहारा देता है, ताकि आप आराम से बिना डिस्टर्ब हुए चैन की नींद सो सकें.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.