News18 हिंदी - Hindi News
स्वास्थ्य

बारिश के मौसम में बैंगन खाना पड़ सकता है सेहत पर भारी, इन सब्जियों से भी बना लें दूरी

हाइलाइट्स

बारिश के मौसम में बैंगन सेहत को नुकसान करता है.
रैनी सीजन में हरी पत्तेदार सब्जियों को भी खाने से बचें.

Avoid Eggplant In Mansoon– वैसे तो बैगन का भरता और चोखा खाना हर किसी को पसंद होता है. इसे खाने से हमारे शरीर को कई पोषक तत्व मिलते हैं. लेकिन मानसून के समय हर सब्ज़ी शरीर के लिए फ़ायदेमंद नहीं होती है. जैसे कि बैगन, शिमला मिर्च, गोबी और हरी पत्ते दार वाली सब्ज़ियां. इन सब्ज़ियों को बारिश के मौसम में खाने से शरीर में खुजली, उल्टी, पेट में दर्द और दस्त जैसी परेशानी हो जाती है. वही लौकी, भिंडी, करेला और तुरई की सब्ज़ी बारिश में खाना बेहद फायदेमंद माना जाता है. आइए जानते है मानसून में किन सब्ज़ियों को खाने से हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है और शरीर में कमजोरी महसूस होने लगती है.

बैगन- ग्रीन स्टोरीज के अनुसार बैगन के अंदर अल्कलॉइड पाया जाता है. जिसके कारण बारिश होने पर इसका एसिडिक लेवल बढ़ जाता है और यह शरीर को नुकसान करता है. इसके अलावा बारिश में बैगन में कीड़े भी पड़ जाते हैं. इसे खाने से आपको शरीर में खुजली, उल्टी, एलर्जी, शरीर पर चिट्टे पड़ना, ब्लड प्रेशर कम होना जैसी परेशानी हो सकती है. साथ ही इसे खाने से आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है.

यह भी पढ़ें- 
वेट घटाने वालों को कोरोना से जुड़ी गंभीर जटिलताओं का खतरा कम: स्टडी

हरी पत्ते वाली सब्ज़ियां- मानसून के मौसम में पालक, मेथी, बथुआ, जैसी सब्जियां खाने से परहेज करना चाहिए. बारिश में बैक्टीरिया और फंगस इंफेक्शन का खतरा काफी बढ़ जाता है.जिससे पत्तेदार सब्जियों के बीच कीड़े-मकोड़े तेजी से पनपने लगते हैं. कई बार कीड़े इतने छोटे होते है कि आँखों से नहीं दिख पाते है और ऐसे में उन्हें खाने से आपको पेट में दर्द जैसे परेशानी हो सकती है.

फूलगोभी- बारिश के मौसम में कीड़े फूलगोभी के अंदर छोटे-छोटे घर बना लेते हैं. इसके अलावा फूलगोभी में ग्लूकोसाइनोलेट्स नामक पदार्थ पाया जाता है. मानसून में इस सब्ज़ी को खाने से बचना चाहिए. इससे उन्हें दस्त, उल्टी, पेट में दर्द जैसी परेशानी हो सकती है.

यह भी पढ़ें- दही आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही देता है सेहत को ये फायदे भी

शिमला मिर्च- गर्मियों में सबसे शिमला मिर्च पसंद कि जाती है. इसके अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है. लेकिन मानसून के मौसम में शिमला मिर्च खाने से परेशनी हो सकती है. इनमें ग्लूकोसाइनोलेट्स नामक पदार्थ पाया जाता हैं, जो मानसून के मौसम में काटने या चबाने पर आइसोथियोसाइनेट्स में बदल जाता है. इससे आपको उल्टी, दस्त और सांस लेने में परेशनी जैसी दिक्कतें हो सकती है.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.