पेशाब में झाग आने के कारण और दूर करने के घरेलू उपचार
स्वास्थ्य

पेशाब में झाग आने के कारण और दूर करने के घरेलू उपचार

पेशाब करते ही क्या यूरिन झागदार नजर आता है, तो इसे नजरअंदाज ना करें. कई बार यह गंभीर शारीरिक समस्या की तरफ इशारा करता है. झाग कई बार किडनी में कोई समस्या होने के कारण भी निकल सकता है. पेशाब के रंग, दुर्गंध आदि में किसी भी तरह का कोई परिवर्तन एक अंतर्निहित समस्या की तरह इशारा करता है. क्लाउडी यूरिन या झागदार पेशाब का सबसे मुख्य कारण है डिहाइड्रेशन या यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन. इसके अलावा, यूरिन में पस होने के कारण भी झागदार पेशाब हो सकता है. पस आने के कारणों में शामिल हैं वेजाइनल इंफेक्शन, ब्लैडर इंफेक्शन, कैलमाइडिया, किडनी स्टोन के कारण यूरेटर वॉल का क्षतिग्रस्त होना आदि. कई बार डायबिटीज, हार्ट डिजीज शरीर के सामान्य कार्यों को प्रभावित करते हैं, जिसके कारण भी झागदार पेशाब हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: Prevention Tips of UTI: यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन में नजर आते हैं ये लक्षण, ऐसे करें ठीक

झागदार पेशाब के लक्षण

  • यूटीआई के कारण झाग आ सकता है
  • बार-बार पेशाब करने की इच्छा
  • पेशाब करने के दौरान जलन होना
  • कम मात्रा में जल्दी-जल्दी पेशाब होना
  • पेशाब से दुर्गंध आना
  • पेल्विस में तेज दर्द होना

इसे भी पढ़ें: किन कारणों से होती है पेशाब करते समय जलन, जानिए कारण और निदान

झागदार पेशाब की समस्या का घरेलू उपचार

हाइड्रोथेरेपी क्लाउडी यूरिन का कारगर इलाज
स्टाइलक्रेज में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, यदि पेशाब झागदार आ रहा है, तो खूब पानी पिएं. कई बार डिहाइड्रेशन के कारण भी क्लाउडी यूरिन की समस्या हो जाती है. यदि आपको यूटीआई की समस्या है, तो भी आप खूब पानी पिएं, ताकि दर्द, जलन कम हो सके. पानी शरीर से टॉक्सिन पदार्थ को बाहर निकालने में मदद करता है, साथ ही इंफेक्शन का कारण बनने वाले माइक्रोऑर्गेनिज्म को भी कम करता है. इस तरह से लक्षणों से छुटकारा मिलता है.

ब्लूबेरी का जूस पिएं
सुबह आप सबसे पहले एक गिलास ब्लूबेरी से तैयार जूस पिएं. जब तक यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, पेशाब से झाग आना या बदबू आना ना बंद हो जाए, इस जूस का सेवन करें. इस जूस में एंटीऑक्सीडेंट्स और कई अन्य कम्पाउंड मौजूद होते हैं, जो यूटीआई का कारण बनने वाले बैक्टीरिया का नाश कर देते हैं. आप बेरीज में दूसरे फलों का भी सेवन नाश्ते में कर सकते हैं. आधा कप क्रेनबेरी जूस को आधा कप पानी में मिलाकर पी सकते हैं. ब्लूबेरी जूस की ही तरह क्रेनबेरी जूस भी यूटीआई, झागदार पेशाब का नेचुरल इलाज है.

अदरक क्लाउडी यूरिन में कारगर
अदरक कई तरह की समस्याओं को दूर करने के लिए एक बेहतरीन मसाला है. एक चम्मच सूखा अदरक या सोंठ, आधा चम्मच शहद और एक कप पानी लें. पानी को उबालें, इसमें अदरक को डालकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दें. इसे छान लें और शहद मिला दें. अब इस हर्बल टी को धीरे-धीरे पिएं. दिन भर में दो बार यह चाय पिएंगे, तो अदरक में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल तत्व ब्लैडर में होने वाले इंफ्लेमेशन और इंफेक्शन को कम करता है.

पिएं धनिया वाला पानी
यदि आपको यूटीआई या पेशाब में झाग आने की समस्या है, तो आप एक कप पानी में आधा चम्मच साबुत धनिया डालकर उबालें. जब पानी आधा हो जाए, तो इसे गुनगुना करके दिनभर में दो बार पिएं. धनिया के बीज में मूत्रवर्धक और रोगाणुरोधी तत्व मौजूद होते हैं. ये झागदार पेशाब और यूटीआई के लक्षणों को कम करते हैं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.