किसान संघर्ष समिति का बड़ा बयान;सरकार MSP की गारंटी दे, बाकी बाद में देख लेंगे
स्वास्थ्य

पिंपल होने का कारण ये चीजे तो नहीं? आज ही करें डाइट में बदलाव

पिंपल्‍स से परेशान हैं, तो अपनी डाइट में बदलाव करें.

चेहरे (Face) पर निकलने वाले पिंपल (Pimples) जहां तकलीफ पहुंचाते हैं, वहीं ये ठीक होने के बाद भी दाग-धब्‍बे छोड़ जाते हैं. देखने में ये बहुत ही खराब लगते हैं और चेहरे की खूबसूरती बिगाड़ते हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 12, 2020, 3:41 PM IST

चेहरा (Face) बेदाग हो तो इसकी खूबसूरती और बढ़ जाती है. मगर जब चेहरे पर पिंपल (Pimples) आदि निकल आते हैं, तो चेहरा भी अच्‍छा नहीं लगता और इनकी वजह से तकलीफ भी होती है. देखने में ये बहुत ही खराब लगते हैं. वहीं यह ठीक होने पर भी चेहरे पर दाग-धब्बे छोड़ जाते हैं. ऐसे में लोग इनके सफाए के लिए कई तरह के उपाय अपनाते हैं. महंगे उत्‍पाद खरीदते हैं और दवाएं तक लेते हैं. अगर आप भी पिंपल्‍स से परेशान हैं और इनके खात्‍मे के लिए कई तरह के उपाय करके थक चुके हैं, तो इस बार अपनी डाइट में भी कुछ बदलाव करें. दरसअल, चेहरे पर होने वाले इन पिंपल्‍स का आपके खान पान से गहरा संबंध है. ऐसे में कुछ बदलाव करके इनसे छुटकारा पाया जा सकता है.

मैदा से बनी चीजें
अगर आप पिंपल और एक्ने की समस्‍या से जूझ रहे हैं, तो चीनी का इस्‍तेमाल कम से कम करें. साथ ही मैदा से बनी चीजें जैसे ब्रेड, बिस्‍कुट आदि से भी दूरी बनाए रखें. इसके सेवन से अक्सर कब्ज की समस्या रहने लगती है. ऐसे में पेट साफ न होने से भी पिंपल निकलने लगते हैं.

ये भी पढ़ें – क्रिसमस सेलिब्रेशन पर इन मेकअप टिप्‍स की मदद से बन जाएं महफिल की शानतले-भुने का सेवन

आप भी तले-भुने के शौकिन हैं, तो पिंपल्‍स और एक्‍ने की समस्‍या से छुटकारे के लिए इन्‍हें खाना बंद कर दें. दरअसल, तला भुना आहार स्किन की कोशिकाओं के लिए नुकसानदेह होता है. इसलिए इन चीजों से दूरी बना लें.

चाय और कॉफी
अगर आपकी आदत दिन भर चाय और कॉफी पीने की है, तो इसे बदल दें. क्‍योंकि इनके ज्‍यादा सेवन से भी पिंपल की समस्‍या बढ़ती है. कॉफी में मौजूद कैफीन इंसुलिन लेवल को बढ़ाता है, ऐसे में पिंपल होने लगते हैं.

ये भी पढ़ें – फूलों-सा चाहिए निखार तो करें बॉडी पॉलिशिंग

धूम्रपान और जंक फूड्स
जंक फूड्स का ज्‍यादा सेवन भी इस समस्‍या को बढ़ा सकता है. वहीं धूम्रपान से भी पिंपल की समस्‍या बढ़ती है. इसलिए इनसे दूरी बनाएं. इसके अलावा दवाइयों के ज्यादा सेवन से भी पिंपल्स की समस्‍या हो सकती है. साथ ही हार्मोनल इनबैलेंस भी पिंपल्स का अहम कारण माना जाता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *