Hindi News - News18 हिंदी
स्वास्थ्य

नियमित तौर पर करें ये योगाभ्यास, शारीरिक और मानसिक सेहत को होगा फायदा Yoga Session by Savita Yadav Shashakasana Parvatasana Bhujangasana– News18 Hindi

Yoga For Health: सेहत को दुरुस्त रखने के लिए कसरत करने की सलाह दी जाती है लेकिन एक्सपर्ट्स के मुताबिक मानसिक और शारीरिक सेहत को सुधारने के लिए योग करना भी बहुत जरूरी है. दरअसल, योग करने से न सिर्फ शरीर बीमारियों से दूर होता है बल्कि इससे तनाव भी कम होता है. योग प्रशिक्षिका सविता यादव ने आज के लाइव योग सेशन में कई सारे योग आसन बताए. आइए, जानते हैं स्ट्रेचिंग (Stretching) करने के लिए कुछ चुनिंदा आसन

शशकासन

इस आसन को करते समय खरगोश जैसी आकृति बन जाती है इसलिए इसे शशकासन (Shashakasana) कहा जाता है. इस के लिए सबसे पहले वज्रासन में बैठ जाएं. इसके बाद सांस भरते हुए अपने दोनों हाथों को ऊपर उठा लें. कंधों को कानों से सटाएं. इसके बाद सामने की ओर झुकते हुए अपने दोनों हाथों को आगे की ओर फैलाते हुए सांस छोड़ें और हथेलियां को जमीन पर टिका दें. इसके बाद अपना माथा भी जमान से सटा दें. ये आसान पेट और कमर की चर्बी कम करता है. साथ ही इसका नियमित अभ्यास करने से स्ट्रेस भी दूर होता है.

शशकासन से पेट और कमर की चर्बी कम होती है.

यह भी पढ़ें- Yoga Session: शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरूर करें ये योगाभ्यास, इम्यूनिटी होगी स्ट्रॉन्ग

पर्वतासन

पर्वतासन (Parvatasana) को करने के लिए मैट पर शशकासन में बैठ जाएं और अपने शरीर को पर्वत का आकार देते हुए अपनी एड़ियों को जमीन पर टिकाए रखें. साथ ही अपने हाथों को भी जमीन पर रखें. आपको अपने पैरों के पंजे और हाथों को जमीन पर ही रखते हुए कमर को ऊपर की ओर उठाना है यानी एक त्रिकोणीय आकार बनाना है. इसके बाद पंजों को जमीन पर रखते हुए एड़ियों को उठाएं और वापस जमीन पर लगा दें. इसे 10-15 बार करने के बाद अपने हाथों को जमीन पर रखें रहें और कदमों को धीरे-धीरे आगे की ओर लाएं. अगर आपको कमर दर्द की समस्या है तो आप ऐसा न करें. ऐसा ही आपको कदमों को वापस अपनी जगह ले जाते समय करना है. इस दौरान अपने घुटनों को मोड़ें नहीं और अपनी सांसों को लेना और छोड़ना न भूलें. इस आसान से आपके कंधों को मजबूती मिलेगी.

पर्वतासन से कंधों को मजबूती मिलती है.

पर्वतासन से कंधों को मजबूती मिलती है.

भुजंगासन
पर्वातासन से भुजंगासन (Bhujangasana) में आने के लिए पहले शशकासन में आएं. इसके बाद वापस पर्वतासन में जाएं और उसके बाद अपने घुटनों और कमर को जमीन पर सटा दें. अपना ऊपरी भाग उठाए रखें. इस की पोज में ऊपर की ओर देखें. आप इस दौरान अपने पंजों के बीच गैप भी रख सकते हैं. ये अभ्यास कमर दर्द में राहत देता है. इस दौरान अपने हाथों को जमीन पर सटाए रखें.

भुजंगासन कमर दर्द में राहत देता है.

भुजंगासन कमर दर्द में राहत देता है.

योगाभ्यास को अगर आप नियमित तौर पर करेंगे तो आप की सेहत बेहतर होगी. रोग से लड़ने की क्षमता बढ़ेगी और साथ ही आपका तनाव भी कम होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *