दौड़ने के बाद पैरों की पिंडलियों में होता है ऐंठन और दर्द तो इन 6 उपायों से पाएं आराम
स्वास्थ्य

दौड़ने के बाद पैरों की पिंडलियों में होता है ऐंठन और दर्द तो इन 6 उपायों से पाएं आराम

Calf Pain After Running : कई बार तेज चलने या जॉगिंग करने के बाद पैरों की पिंडलियों में इतना अधिक जकड़न और ऐंठन महसूस होने लगता है और उठना बैठना मुश्किल हो जाता है. ये दर्द मलहम को लगाने से भी ठीक नहीं होता और पैरों में सूजन (Inflammation) और लालिमा तक आ जाती है. कई बार तो ये कई कई दिनों तक नहीं जाता और इसकी वजह से सीढि़यां उतने और चढ़ने में भी मुसीबत बन जाता है.  यह समस्‍या उन लोगों को भी होती है जो नया नया लेग एक्‍सरसाइज करना शुरू किए हैं और जिम जा रहे हैं. ऐसे में पैर की पिं‍डलियों के मसल्‍स टाइट हो जाते हैं और लगातार क्रैंप (Cramp) जैसा दर्द भी होने लगता है. आइए आज हम आपको बताते हैं कि आप पिंडलियों में होने वाले दर्द से आराम पाने के लिए कौन सा घरेलू उपाय कर सकते हैं.

इस तरह करें पिंडलियों के दर्द को ठीक

व्‍यायाम या रनिंग से पहले वार्मअप जरूरी

अगर आप नया नया दौड़ना शुरू किए हैं तो इस तरह के दर्द से बचने के लिए वार्मअप जरूर करें.  इसके अलावा दौर की शुरुआत धीमी गति से करें और जब बॉडी गर्म हो जाए तब ही व्‍यायाम करें.

इसे भी पढ़ें: गैस की वजह से भी होता है सिर में दर्द, इन 5 घरेलू उपायों से पाएं राहत

हाइड्रेशन जरूरी
अपने शरीर को हाइड्रेट रखें क्योंकि डिहाईड्रेशन के कारण भी मसल्‍स में क्रैंप और ऐठन जैसी समस्‍या होने लगती है.

आइस पैक का सेक
मासंपेशियों में दर्द होने पर आप पैरों का सीधा कर बैठ जाएं और आईस पैक की मदद से 15 मिनट तक सेक लगाएं. इसके बाद अच्‍छी तरह से तेल मालिश कर लें.

अच्‍छे जूतों का करें प्रयोग
पैर की पिंडलियों को चोट से बचाने के लिए आप सही साइज के जूते और स्पोर्ट्स वेयर पहनें.  ऐसा करने से पैरों पर अतिरिक्‍त दबाव नहीं पड़ता और आप बिना दर्द के दौर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: गर्मी में पसीने के कारण त्वचा में हो गई है खुजली, रैशेज, ये हैं इलाज के 4 प्राकृतिक तरीके

 

पैरों को उठाकर रखें
सूजन और दर्द को कम करने के लिए आप अपने पैर को सोते समय कुछ देर के लिए ऊपर की ओर दीवार के सहारे रखें.  इससे आपको बेहतर महसूस होगा.

एक्सरसाइज से करें ठीक
पिंडलियों के दर्द को ठीक करने के लिए आप सिंगल लेग स्क्वाट, पिंडलियों को उठाना,  पिंडलियों का स्‍ट्रेचिंग, जंपिंग जैक जैसे व्‍यायाम करें. अधिक दर्द होने पर आप डॉक्‍टर की सलाह ले सकते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.