देश में पहली बार हुए हैपीनेस सर्वे में सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को शामिल करते हुए रैंकिंग दी गई. मिज़ोरम, पंजाब और अंडमान व निकोबार टॉप 3 राज्य रहे, जहां लोग सबसे ज़्यादा खुश हैं. छत्तीसगढ़, ओडिशा और उत्तराखंड ने सबसे कम स्कोर किया. सर्वे की खास बात रही कि इसमें खुशी पर कोविड के प्रभाव को समझा गया इसलिए महाराष्ट्र, दिल्ली और हरियाणा जैसे राज्यों में खुशी कम देखी गई. जम्मू व कश्मीर कम खुश राज्यों में दिखा. इस सर्वे में क्या जानने लायक रहा और मिज़ोरम सबसे खुश राज्य कैसे बना? जानिए.
स्वास्थ्य

देश में सबसे खुश लोग मिजोरम में हैं, क्या आप जानते हैं कैसे? | Know how mizoram topped the list of happiest states in india | relationships – News in Hindi

इस स्टडी के मुताबिक जेंडर और खुशी का आपस में कोई खास संबंध नहीं दिखा, जबकि वैवाहिक जीवन, आयु, शिक्षा और आय का खुशी के साथ गहरा संबंध दिखा. ये भी दिखा कि देश में विवाहित लोग गैर शादीशुदा लोगों के मुकाबले ज़्यादा खुश हैं. कामकाज से जुड़े मामलों में असम, मिजोरम, अंडमान, पंजाब व पुडुचेरी तो संबंधों के मामले में पंजाब, कर्नाटक, मिजोरम, अंडमान और सिक्किम टॉप 5 राज्य रहे.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *